कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट ने एक बार फिर भारत से लेकर दुनियाभर की सरकारों को चिंता में डाल दिया है। कुछ राज्यों में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस से संक्रमित मरीज पाए जाने के बाद अब उत्तर प्रदेश में अलर्ट घोषित हो गया है। यूपी में अभी कोई रोगी नहीं मिला है। CM योगी आदित्यनाथ ने दूसरे राज्यों की सीमा से सटे जिलों में बाहर से आ रहे लोगों का सैंपल लेकर उसकी जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए किंग जार्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) भेजने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि हवाई अड्डे, रेलवे स्टेशन व बस अड्डे पर भी पूरी सतर्कता बरती जाए। खतरनाक डेल्टा प्लस वैरिएंट से बचाने के लिए सभी जरूरी उपाए किए जाएं। विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि सिरदर्द, सर्दी-जुकाम के कारण लगातार नाक बहने और गले में हो रही खराश को नजरअंदाज न करें। अब तक जो रोगी मिले हैं, उनमें यह लक्षण पाए गए हैं।

डेल्‍टा वैरिएंट के अब तक 40 मामले

देश में कोरोना वायरस का एक नया रूप डेल्टा प्लस वैरिएंट सामने आया है। महाराष्ट्र केरल, मध्य प्रदेश और तमिलनाडु में अब तक इसके कुल 40 मामले सामने आ चुके हैं। देश के वैज्ञानिकों ने फैसला किया है कि वे इसको लेकर शोध करेंगे कि भारतीय वैक्सीन कोरोना वायरस के नए डेल्टा प्लस वैरिएंट के खिलाफ कितनी असरदार है और क्या ये डेल्टा प्लस वैरिएंट को बेअसर कर सकती है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags