भारत में जब से One Nation One Ration Card की व्यवस्था लागू हुई तब से Ration Card का महत्व ज्यादा बढ़ गया है। इसका उपयोग सिर्फ सस्ते राशन के लिए नहीं, बल्कि पहचान पत्र के रूप में भी होता है। इसका महत्व अब आधार कार्ड (Aadhaar Card) और पैन कार्ड (PAN Card) के समान हो गया है। यदि अभी तक आपके पास Ration Card नहीं है तो चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि आप घर बैठे स्मार्टफोन के जरिए ऑनलाइन राशन कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए हर राज्य ने अपनी-अपनी वेबसाइट बनाई है और उसके जरिए आप आवेदन कर सकते हैं।

वन नेशन वन राशन कार्ड योजना:

इस स्कीम के तहत किसी भी क्षेत्र के नागरिक राशन कार्ड के माध्यम से देश के किसी भी राज्य से पीडीएस राशन की दुकान से राशन प्राप्त कर सकेंगे। मार्च 2021 तक यह योजना देशभर में लागू हो जाएगी।

राशन कार्ड बनाने के लिए निम्नलिखित शर्तों का पालन करना अनिवार्य:

राशन कार्ड बनाने वाले व्यक्ति के लिए भारत का नागरिक होना अनिवार्य है। व्यक्ति के पास किसी अन्य राज्य का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए।परिवार के मुखिया के नाम से राशन कार्ड बनता है। 18 साल से अधिक आयु के व्यक्ति का राशन कार्ड बनेगा। 18 साल से कम उम्र के बच्चों का नाम माता-पिता के राशन कार्ड में शामिल किया जा सकता है। परिवार में सिर्फ वे व्यक्ति ही शामिल किए जा सकते हैं जिनका परिवार के मुखिया से नजदीकी संबंध हो। परिवार के किसी भी सदस्य का नाम किसी अन्य राशन कार्ड में शामिल नहीं होना चाहिए।

कैसे करें आवेदन:

1. राशन कार्ड बनवाने के लिए सबसे पहले अपने राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

2. इसके बाद Apply online for Ration Card वाले लिंक पर क्लिक करें।

3. राशन कार्ड बनवाने के लिए आईडी प्रूफ के तौर पर आधार कार्ड, वोटर आईडी पासपोर्ट, हेल्थ कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि दिया जा सकता है।

4. राशन कार्ड के लिए आवेदन का शुल्क 5 रुपए से लेकर 45 रुपए तक है। आवेदन पत्र भरने के बाद शुल्क जमा करें और आवेदन submit कर दें।

5. इसके बाद फील्ड वेरिफिकेशन होगा, यदि आपका आवेदन सही पाया जाता है तो आपका राशन कार्ड बन जाएगा।

ये दस्तावेज जरूरी:

Ration Card के लिए आईडी प्रूफ के तौर पर कई दस्तावेज मान्य होते हैं। इनमें Aadhaar Card, Voter ID, पासपोर्ट, सरकार द्वारा जारी कोई आई कार्ड, हेल्थ कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड प्रस्तुत किया जा सकता है। पासपोर्ट साइज फोटो लगाना होंगे। इसके अलावा पते के प्रमाण के रूप में बिजली बिल, गैस कनेक्शन बुक, टेलीफोन बिल, बैंक स्टेटमैंट, बैंक पासबुक या रेंटल एग्रीमेंट जैसे दस्तावेज लगेंगे।

जैसे ही आप राशन कार्ड के लिए आवेदन करते हैं तो उसे फील्ड वेरिफिकेशन के लिए भेजा जाता है। संबंधित अधिकारी फॉर्म में भरे डिटेल्स की जांच के जरिए पुष्टि करता है। यह प्रोसेस सामान्य स्थिति में 30 दिनों में हो जाती है। इसके बाद राशन कार्ड बनता है।

Posted By: Kiran K Waikar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020