Atal Pension Yojana: अटल पेंशन योजना के सब्सक्राइबर्स ध्यान दें। कोरोना काल में खाताधारकों को राहत देने के लिए सरकार ने जून 2020 तक ऑटो डेबिट सुविधा रोक दी थी। यानी इस अवधि में खातों से अपने आप राशि नहीं काटी गई। अब 1 जुलाई से ऑटो डेबिट फेसिलिटी फिर शुरू कर दी गई है और खाताधारकों को अपना बचा हुआ अंशदान जमा करने के लिए 30 सितंबर तक का समय दिया गया है। यानी खाताधारकों के पास अपने खातों को नियमित करने के लिए 30 सिंतबर तक का समय दिया गया है। इसके बाद पेनल्टी लगाई जाएगी।

सरकार ने ऑटो डेबिट फेसिलिटी (खातों से अपने आप पैसे कटकर पेंशन खाते में जमा होना) की सुविधा अप्रैल से ही रोक दी थी। तब कोरोना महामारी देश में आ चुकी थी और लोगों की सेहत के साथ आर्थिक स्थिति पर इसका असर पड़ने लगा था। ऑटो डेबिट फेसिलिटी रुकने से जहां लाखों खाताधारकों को बड़ी मदद मिली, वहीं लाखों ऐसे भी रहे जो नियमित रूप से अपना हिस्सा जमा करते रहे।

How to regularised Atal Pension Yojana Account (अटल पेंशन योजना खाता कैसे रेग्युलराइज करें)

Atal Pension Yojana में हर महीने या हर तीन महीने में अंशदान जमा करने की सुविधा है। अब खाताधारकों को यह पता लगाना है कि उनका कितने महीनों का अंशदान बकाया है। इस राशि को पता लगाकर जमा करना होगा। इसके बाद जिस खाते से अंशदान कटकर पेंशन खाते में जाता है, उसमें पर्याप्त राशि रखना है, ताकि ऑटो डेबिट फेसिलिटी फेल न हो।

यह पता लगाना जरूरी है कि APY account रेग्युलराइज हुआ है या नहीं। इसके लिए APY account पर लॉगिन करें और स्टेटमेंट देखें। यदि बचे हुए महीनों की राशि कट गई है तो समझिए खाता रेग्युलराइज हो गया है। इसके अलावा किसी महीने पैमेंट नहीं मिलने पर बैंक एसएमएस अलर्ट भी भेजते हैं। इन एसएमएस अलर्ट को भी चेक किया जा सकता है। यदि APY account से पैसे नहीं कटे रहे हैं तो अपने बैंक से सम्पर्क करें और बचा हुआ अंशदान जमा कर खाते को रेग्युलराइज करवाएं।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020