Ram Mandir Trust: अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट का गठन कर दिया गया है। इस बीच अयोध्या में तैयारियां भीजोर पड़ने लगी हैं। योजना के मुताबिक, प्रभु श्रीराम के इस मंदिर का गर्भगृह काफी बड़ा होगा। इसकी लंबाई और चौड़ाई 20 बाय 20 फीट की होगी। अब तक प्रमुख मंदिरों में सोमनाथ का गर्भगृह इससे बड़ा है है। विश्व हिंदू परिषद ने यह मॉडल तैयार किया है। इसके मुताबिक, Ram Mandir निर्माण का स्वरूप भी संतों के सामने रखा गया। विहिप के केंद्रीय महामंत्री संगठन दिनेश चंद के अनुसार, Ram Mandir में 2 परिक्रमा मार्ग होंगे। एक मंदिर के अंदर (15 फीट) और दूसरा मंदिर के बाहर (50 फीट) होगा। गर्भगृह के मंडप की क्षमता 1000 भक्तों की होगी, जबकि प्रवेश के मंडप में 1200 श्रद्धालु खड़े हो सकेंगे। मंदिर का शिखर 161 फीट का होगा।

दिनेश चंद ने बताया कि लगभग 30 सालों से इसी मॉडल को देश और दुनिया भर में प्रदर्शित किया गया है। मंदिर निर्माण के लिए 60 फीसदी पत्थरों को तराशा जा चुका है। केंद्रीय महामंत्री संगठन ने मंदिर के पूरे स्वरूप के बारे में भी संतों को जानकारी दी। बताया कि शिलापूजन भी पहले ही हो चुका है। अब निर्माण कार्य शीघ्र शुरू कराने की तैयारी है।

अयोध्या विवाद मामले में पीस पार्टी की क्यूरेटिव याचिका

इस बीच, अयोध्या विवाद मामले में पीस पार्टी ऑफ इंडिया की ओर से सुप्रीम कोर्ट के 9 नवंबर, 2019 के फैसले के खिलाफ मंगलवार को फिर क्यूरेटिव याचिका दाखिल की गई है। पीस पार्टी ने अपनी याचिका में कहा है कि संशोधन के लिए सरकार का आवेदन दरअसल छद्म रूप से पुनर्विचार के लिए ही आवेदन है, लिहाजा उचित होगा कि उसे वैसा ही माना जाए और दोनों पक्षों को खुली अदालत में सुना जाए।

सुप्रीम कोर्ट ने नौ नवंबर, 2019 को सर्वसम्मति से उस स्थान को ट्रस्ट को सौंपने का आदेश दिया था जिस पर विवादित ढांचा निर्मित था। ट्रस्ट को उस स्थल पर मंदिर निर्माण की निगरानी का दायित्व सौंपा गया है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020