नई दिल्ली। उप्र सरकार ने सोमवार को अयोध्या में प्रस्तावित राम मंदिर की तस्वीर जारी की। रामजन्म भूमि पर मंदिर के पास ही भगवान राम की मूर्ति बनाई जाएगी। तस्वीर में मंदिर के साथ ही मूर्ति भी नजर आ रही है। मंदिर व मूर्ति तीन साल में 2022 तक बनकर तैयार हो जाएंगे। 2022 में देश की आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के मौके पर इसका उद्घाटन संभावित है। मालूम हो कि गत 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्‍या रामजन्‍मभूमि मामले में अहम फैसला सुनाया था। 5 जजों की संवैधानिक पीठ ने एक मत से फैसले में कहा, अयोध्या की विवादित 2.7 एकड़ भूमि पर रामलला का अधिकार है, मंदिर वहीं बनेगा। मस्जिद के लिए किसी और स्थान पर 5 एकड़ जमीन दी जाएगी। सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को 3 माह में मंदिर निर्माण के लिए ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया है। देश में चारों ओर इस फैसले का स्वागत हुआ है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि अयोध्या फैसले को किसी पक्ष की हार या जीत के रूप में नहीं देखें। उन्होंने देश की जनता से शांति, सद्भाव और एकता की अपील की।

यह भी पढ़ें : Ayodhya Case 2019 : 2022 तक बन जाएगा भव्‍य राम मंदिर, राजस्‍थान के गुलाबी पत्‍थरों से बनेगा रघुपुरम, पढ़ें विस्‍तार से

ऐसा होगा मंदिर का स्‍वरूप

- 240 फीट लंबा व 145 फीट चौड़ा होगा परिसर

-मंदिर परिसर 240 फीट लंबा और 145 फीट चौड़ा होगा।

-इसकी ऊंचाई 141 फीट होगी।

-4 फीट गोलाई के 251 स्तंभ होंगे।

-एक प्रार्थना हॉल, रामकथा कुंज, वैदिक पाठशाला, संत निवास, यात्री निवास भी होंगे।

-भगवान राम की मूर्ति के आसपास डिजिटल संग्रहालय, लाइब्रेरी, कैफेटेरिया व पार्किंग होंगे।

यह भी पढ़ें : Ayodhya Verdict 2019: इस शख्स ने बनाया है अयोध्या राम मंदिर का नक्शा, शिल्प शास्त्र के तहत होगा निर्माण

Posted By: Navodit Saktawat