कटिहार। केंद्रीय मंत्री और भाजपा सांसद गिरिराज सिंह ने कहा कि राम मंदिर पर उनका कार्य पूरा हो गया है। एक बार जनसंख्या नियंत्रण पर कानून बन जाए, तो वह राजनीति से संन्यास ले लेंगे। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण और जनसंख्या नियंत्रण उनके राजनीतिक जीवन के दो मुख्य उद्देश्य थे।

मंत्री ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने का मेरा काम खत्म हो गया है। मेरे जैसे लोगों के लिए सेवानिवृत्त लेने का समय आ गया है। जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित करने के लिए कानून बनाए जाने के बाद मैं राजनीति से संन्यास ले लूंगा। 67 वर्षीय सांसद गिरिराज सिंह विवादास्पद टिप्पणी करने के लिए सबसे ज्यादा जाने जाते हैं और देश में जनसंख्या वृद्धि को नियंत्रित करने के उपायों के लिए वह मजबूती से वकालत करते रहे हैं।

विशेष रूप से भाजपा की यह नीति है कि वह 75 वर्ष से अधिक आयु के नेताओं को चुनाव नहीं लड़ाएगी। पिछले महीने उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण के लिए जागरूकता फैलाने के लिए आयोजित एक यात्रा में भाग लिया और कहा कि देश में जनसंख्या में वृद्धि की जांच करने की जरूरत है। इससे पहले जनवरी में उन्होंने कहा था कि कुछ समुदाय विशेष रूप से जनसंख्या में वृद्धि के लिए जिम्मेदार हैं।

बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट ने नौ नवंबर 2019 को अयोध्या विवाद मामले में 40 दिन चली सुनवाई के बाद अपना ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए कहा था कि अयोध्या में विवादित स्थल पर राम मंदिर बनेगा। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने कहा- मुस्लिम पक्ष को अयोध्या में ही पांच एकड़ की अलग से जमीन दी जाए, जिस पर वो मस्जिद बना सकें।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai