Bharat Bandh : भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद रावन ने 23 फरवरी को भारत बंद का एलान किया है। भीम आर्मी और उससे जुड़े संगठनों ने प्रमोशन में आरक्षण देने, भारतीय नागरिकता कानून और एनपीआर को वापस लेने की मांग को लेकर रविवार को भारत बंद का आह्वान किया है। भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर ने यहां सीएए और एनआरसी के विरोध में चल रहे धरने को समर्थन दिया था।

इसके बाद यूपी, उत्तराखंड, बिहार सहित कई जगहों पर पुलिस अलर्ट है। पुलिस को हिदायत दी गई है कि जबरन बंद कराने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। भीम आर्मी के भारत बंद के समर्थन में बिहार के दरभंगा में ट्रेन रोकने की खबर है। दरभंगा के लहेरियासराय स्टेशन पर कमला गंगा फास्ट पैसेंजर को रोका गया। प्रदर्शनकारियों की मांग है कि सरकार प्रमोशन में आरक्षण के लिए अध्यादेश लाए।

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार आरक्षण छीनने की कोशिश कर रही है। अगर केंद्र सरकार ने अध्यादेश लाकर सुप्रीम कोर्ट के आरक्षण पर दिए फैसले को नहीं पलटा, तो एससी-एसटी एक्ट को लेकर पूर्व में आए फैसले के खिलाफ जैसा प्रदर्शन हुआ था, वैसा ही प्रदर्शन इस बार होगा। इसके साथ ही चंद्रशेखर ने ओबीसी, एससी-एसटी और अल्पसंख्यक वर्ग के नेताओं से भी भारत बंद का समर्थन करने की अपील की है। ऐसा नहीं करने पर पिछड़े और दलित वर्ग के सांसदों-विधायकों के घरों के सामने प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है।

भारत बंद के एलान के बाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पुलिस सतर्क हो गई है। इससे पहले दो अप्रैल 2018 को जहां-जहां हिंसा हुई, वहां पुलिस फोर्स की तैनाती की गई है। मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने कहा कि हम स्थिति पर पैनी निगाह बनाए हुए हैं। खुफिया और सुरक्षा एजेंसियों के इनपुट को एक-दूसरे से शेयर किया जा रहा है। उधर, उत्तराखंड में भी सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। संवेदनशील इलाकों में पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है।

Posted By: Shashank Shekhar Bajpai