केंद्रीय कैबिनेट ने किसानों को राहत देते हुए 14 फसलों की एमएसपी तय की है। कैबिनेट ने बैठक में इसके अलावा सूक्ष्म, लघु और मझोले उद्योग (MSMEs), किसानों के लिए भी कई अहम फैसले लिए। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि 360 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीद हो चुकी है। धान की 95 लाख मीट्रिक टन खरीद हो चुकी है। साथ ही 16.07 लाख मीट्रिक टन दालों ओर तिलहन की खरीद हो चुकी है।कैबिनेट ने धान की एमएसपी 1,868 रुपये, ज्वार की 2,620 रुपये, बाजरा की 2,150 रुपये प्रति क्विंटल तय की है। साथ ही मक्का की एमएसपी में 53 फीसद, मूंगफली में 50 फीसद, सूरजमुखी में 50 फीसद, सोयाबीन में 50 फीसद और कपास में 50 फीसद की वृद्धि हुई है।

केंद्र में भाजपा सरकार का एक साल पूरा होने के बाद मोदी कैबिनेट की महत्‍वपूर्ण बैठक सोमवार हुई। सोमवार से लागू हुए अनलॉक 1 के बीच भी यह बैठक अहम थी। सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए कैबिनेट के फैसलों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत अभियान की घोषणाओं को लागू करने के लिए रोडमैप तैयार किया है। कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और नरेंद्र सिंह तोमर भी शामिल थे।

मालूम हो कि केंद्र में भाजपा की सरकार को एक साल पूरा हो जाने के बाद कैबिनेट की यह पहली बैठक थी। देश में सोमवार से लागू हुए अनलॉक 1 के बीच भी यह बैठक अहम मानी जा रही है। सरकार की कोशिश है कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई जारी रहे, लेकिन लोगों को छूट देकर उनकी जिंदगी पटरी पर लाने की कोशिश भी की जाए। साथ ही अर्थव्यवस्था को लेकर सरकार चिंता में है।

कृषि लोन पर ब्याज छूट अब 31 अगस्त तक

तोमर ने कहा कि कृषि ऋण पर ब्याज छूट को 31 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह किसानों के लिए काफी राहत भरा फैसला है। इस तारीख तक लोन चुकाने पर किसान को 4 फीसद ब्याज पर ही कर्ज मिलेगा।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना