भारत सरकार ने चीन को एक और झटका दिया है। भारत में सेमी हाई स्पीड वंदे भारत ट्रेन प्रोजेक्ट से अब चीनी कंपनियां बाहर हो गई हैं। अब सिर्फ भारत की कंपनियों को यह टेंडर दिया जाएगा। सरकार ने पुराने टेंडर को रद्द कर नया टेंडर जारी कर दिया है। जानकारी के मुताबिक, भारतीय रेलवे ने 44 सेमी हाई स्पीड वंदे भारत ट्रेन सेट्स के लिए संशोधित टेंडर जारी किया है। यह टेंडर ट्रेन सेट्स के लिए बोगियों के साथ-साथ थ्री-फेज प्रोपल्शन, कंट्रोल और अन्य उपकरणों के लिए है। इस टेंडर को www.ireps.gov.in पर अपलोड किया गया है।

  • बोली से पहले की बैठक 29 सितंबर, 2020 (29.09.20) को होनी है।
  • टेंडर को खोलने की तारीख 17 नवंबर, 2020 (17.11.20) है।

टेंडर की प्रमुख विशेषताएं इस प्रकार हैं:

यह आत्मनिर्भर भारत के संशोधित डीपीआईआईटी (DPIIT) शर्तों के तहत जारी पहला बड़ा टेंडर है। इसमें कम से कम 75% घरेलू घटक (domestic components) को शामिल किया गया है।

यह टेंडर अब एक घरेलू टेंडर है। इसके लिए केवल भारत में पंजीकृत कंपनियां ही आवेदन कर सकती हैं और उन्हें लागत (quote) भारतीय रुपये में बतानी होगी।

बता दें, इससे पहले भारत ने चीनी मोबाइल ऐप पर बैन लगाकर पड़ोसी देश को चेतावनी जारी की थी। इसके बाद भी सीमा पर चीन की हरकतें जारी रहें तो एक के बाद एक और कदम उठाए गए।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020