Menu

Citizenship Amendment Bill 2019 Live : लोकसभा में नागरिकता बिल पर बहस शुरू, शाह बोले- किसी के साथ अन्याय नहीं

Mon, 09 Dec 2019 07:24 PM (IST) | अजय बर्वे

HIGHLIGHT

  1. आज गृहमंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन बिल सदन में पेश कर दिया हैं।
  2. विपक्षी दलों ने साफ कर दिया है कि वो इस बिल का कतई समर्थन नहीं करने वाले हैं।
  3. बिल में सरकार ने पड़ोसी देशों से आए गैर मुस्लिमों को भारत की नागरिकता देने का समर्थन किया है।

केंद्र सरकार ने आज लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पेश कर दिया है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लोकसभा में जीरो ऑवर में यह बिल सदन के सामने रखा। विपक्षी विरोध के बीच दोपहर में सदन में शाह ने बताया कि इस बिल को लाने की जरूरत क्यों हुई। साथ ही उन्होंने विपक्ष के उन आरोपों को सिरे से खारीज किया जिसमें अल्पसंख्यकों के साथ अन्याय का दावा किया गया है। शाह ने कहा कि इससे भारत के अल्पसंख्यकों को कोई नुकसान नहीं होने वाला है।

09 December 2019
  • 04:45 PM

    शाह ने सदन में बिल पर चर्चा शुरू करते हुए कहा कि Citizenship Amendment Bill 2019 धार्मिक रूप से प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का बिल है। इस बिल ने किसी मुस्लिम के अधिकार नहीं लिए हैं। हमारे एक्ट के अनुसार कोई भी आवेदन कर सकता है। नियमों के अनुसार आवेदन करने वालों को नागरिकता दी जाएगी।

  • 04:40 PM

     दोपहर में सदन में बिल पर बहस को मंजूरी मिलने के बाद अमित शाह ने सदन में आज ही यह बिल पर बहस शुरू कर दी और शाम 4.30 बजे से इस पर चर्चा शुरू हो गई। 

  • 01:38 PM

     गृहमंत्री के संबोधन के बाद सदन में बिल पेश करने को लेकर वोटिंग करवाई गई और इसमें समर्थन में 293 वोट्स पड़े हैं जबकि विरोध में 82 वोड़ पड़े हैं। कुल 376 सदस्यों ने मतदान किया है।

  • 01:35 PM

     बिल को लेकर लगातार कांग्रेस के विरोध पर भड़के गृहमंत्री ने सदन में साफ कहा कि आजादी के वक्त अगर कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन न किया होता, तो ये बिल लाने की जरूरत ही नहीं पड़ती।

  • 01:33 PM

    तीनों देशों में हिंदू, सिख, पारसी, जैन, ईसाई, बुद्ध इन धर्मों का पालन करने वालों के साथ धार्मिक प्रताड़ना हुई। जो बिल मैं लेकर आया हूं, वो धार्मिक रूप से प्रताड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का है। इस बिल में मुसलमानों के हक नहीं छीने गए हैं

  • 01:31 PM

     हमें इन तीन देशों का संविधान देखना होगा ताकि नागरिकता बिल को समझ सकें। अफागनिस्तान के संविधान का आर्टिकल 2 कहता है कि इस्लाम देश का मुख्य धर्म है। इसी तरह का प्रावधान पाकिस्तान और बांग्लादेश में भी है। बंटवारे के समय दोनों देशों में शरणार्थीं बंटे और 1950 में हुए नेहरू लियाकत समझौते में कहा गया कि दोनों देश शरणार्थियों का ख्याल रखेंगे।

  • 01:29 PM

     शाह ने आगे बोला कि पहले भी आर्टिकल 14 के संबधित कईं कानून बने हैं जो उचित वर्गीकरण के साथ थे। तीन देश, बांग्लादेश, अफगानिस्तान और पाकिस्तान भारत की सीमा से जुड़े हैं और भार अफगानिस्तान से 106 किमी की सीमा बांटता है।

  • 01:24 PM

     आर्टिकल 14 को लेकर शाह ने कहा कि 1971 में जब पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने बांग्लादेश से आए लोगों को नागरिकता दी लेकिन पाकिस्तान वालों को क्यों नहीं दी। 1971 के बाद भी बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार होते रहे और नरसंहार नहीं रूके। कांग्रेस ने यूगांडा के शरणार्थियों को नागरिकता दी लेकिन इंग्लैंड वालों को नहीं, उनमें उचित वर्गीकरण क्यों नहीं था। 

  • 01:20 PM

    1971 में बांग्लादेश के साथ पाकिस्तानियों को क्यों नहीं दी नागरिकता

     सदन में बोलने के लिए खड़े हुए गृहमंत्री ने बिल से जुड़े रहे विरोध पर आर्टिकल 14 को लेकर सफाई देते हुए कहा कि मैं इस सदन के लोगों को एक बार फिर से कहना चाहूंगा कि यह देश के संविधान के खिलाफ नहीं है। कुछ लोगों को लगता है कि इससे समानता का अधिकार प्रभावित होगा लेकिन मैं विश्वास दिलाता हूं कि ऐसा नहीं है। 

  • 01:18 PM

     हालांकि, लोकसभा स्पीकर ने औवेसी को सदन में इस तरह के शब्दों के उपयोग ना करने की नसीहत देते हुए उनके द्वारा गृहमंत्री के लिए की गई टिप्पणी को सदन की कार्यवाही से हटाने के निर्देश भी दिए। 

    https://images.jagran.com/naidunia/ndnimg/09122019/09_12_2019-bill_in_ls_4185817_13847535.jpg
  • 01:05 PM

     AIMIM सासंद असदुद्दीन औवेसी ने सदन में कहा कि मुस्लिम इसी देश का हिस्सा हैं। मैं स्पीकर से अपील करता हूं कि देश को इस कानून से बचाएं और गृहमंत्री को भी बचाएं नहीं तो न्यूरमबर्ग रेस कानून और इजराइल के सिटिजनशिप एक्ट की तरह गृहमंत्री जी का नाम हिटलर और डेविड बेंगुरियन के साथ लिखा जाएगा।

  • 01:00 PM

     सौगत राय ने सदन में कहा कि यह बिल बांटने वाला और असंवैधानिक है। यह संविधान के आर्टिकल 14 का उल्लंघन करता है।

  • 12:59 PM

     रिवॉल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के सांसद एनके प्रेमचंद्रन ने कहा कि यह संविधान के उस बेसिक स्ट्रक्चर का विरोध करता है जो देश में सेक्युलर माहौल के खिलाफ है।

  • 12:30 PM

     इसके साथ ही अमित शाह ने यह भी कहा कि जब बिल सदन में चर्चा के लिए आएगा तो मैं आपके हर सवाल का जवाब बिना टाले दूंगा। शाह ने यह भी तंज कसा कि आप सदन से बायकॉट मत करिएगा।

  • 12:29 PM

     विपक्ष के नेता अधीर रंदन चौधरी ने कहा कि यह बिल और कुछ नहीं बल्कि अल्पसंख्यकों पर एक लक्षित कानून है। इस पर अमित शाह ने कहा कि यह देश के अल्पसख्यकों के 0.01 प्रतिशत भी खिलाफ नहीं है। 

  • 12:27 PM

     सदन में नागरिकता संशोधन बिल पेश होने के बाद विपक्षी ने हंगामा शुरू कर इसका विरोध किया जिस पर अमित शाह ने कहा कि यह बिल देश के किसी भी अल्पसंख्यक के खिलाफ नहीं है। 

  • 12:26 PM

     केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 लोकसभा में पेश कर दिया है और इसके साथ ही हंगामा शुरू हो गया है।

  • 11:21 AM

     संसद पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह, आज लोकसभा में पेश करेंगे नागरिता संशोधन विधेयक 2019।

  • 11:15 AM

     असम के दुबरी से सांसद बदरुद्दीन अदमल ने कहा है कि यह बिल हिंदू-मुस्लिम एकता को प्रभावित करेगा और हम इसे पास नहीं होने देंगे।

  • 10:41 AM

     अमित शाह, नागरिकता संशोधन बिल को आज जीरो आवर में पेश करने वाले हैं। इससे पहले विपक्षी दल इसके विरोध की तैयारी कर चुके हैं।

  • 10:40 AM

     संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि नागरिकत संशोधन बिल पूर्वोत्तर के फायदे के लिए है और यह संसद के दोनों ही सदनों में पास होगा।

  • 10:25 AM

    शिया समुदाय को शामिल करने की मांग 

    उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर नागरिकता संशोधन बिल में शिया समुदाय को शामिल करने का अनुरोध किया है। यह बिल सोमवार को लोकसभा में पेश किया जाना है। 

  • 10:11 AM

     इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के सांसद PK Kunhalikutty ने नागरिकता संशोधिन बिल पेश होने के विरोध में सदन में स्थगन प्रस्ताव दिया है।

  • 10:09 AM

    भाजपा ने व्हिप जारी कर अपने सभी सांसदों को सदन में अगले तीन दिन तक मोजूद रहने के लिए कहा है। शाह आज लोकसभा में बिल पेश करेंगे।

  • 09:10 AM

     लकोसभा में बिल पेश होने से पहले खबर है कि शिवसेना सदन में इस बिल का समर्थन करेगी। हालांकि, शिवसेना ने महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई है।

  • 08:44 AM

    लोकसभा में राजग और उसके समर्थक दलों के पास करीब दो तिहाई बहुमत को देखते हुए विधेयक का पारित होना लगभग तय है। इसीलिए कांग्रेस और विपक्षी दल राज्यसभा में संख्या बल जुटाकर बिल को प्रवर समिति में भेजने की कोशिशों में जुटे हैं। 

  • 08:40 AM

    भाजपा नेता राम माधव ने पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के उत्पीड़ित गैर मुस्लिम धर्मावलंबियों को नागरिकता देने संबंधी के प्रस्ताव को जायज ठहराया। उन्होंने कहा कि उत्पीड़न के शिकार अल्पसंख्यकों के लिए भारत ने अपना दरवाजा हमेशा खोले रखा है।

  • 08:40 AM

     बिल को लेकर शशि थरूर ने अपने बयान में कहा है कि नागरिकता संशोधन विधेयक मौजूदा स्वरूप में पारित हो गया, तो यह गांधी के विचारों पर जिन्ना के विचारों की जीत होगी।

  • 08:39 AM

     कांग्रेस की अंतिरम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी नेताओं के साथ हुई बैठक में पुरी ताकत से इस बिल के विरोध के निर्देश दिए हैं। 

  • 08:38 AM

    घटक और बीजद जैसे मित्र दलों के समर्थन के बूते राजग सरकार ने बिल को पारित कराने की तैयारी कर ली है। वहीं कांग्रेस की अगुआई में अधिकतर विपक्षी दलों ने नागरिकता संशोधन बिल के वर्तमान स्वरूप को देश के लिए खतरनाक बताते हुई इसके विरोध की ताल ठोक दी है।

  • 08:36 AM

     केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 पेश करने वाले हैं। इस बिल का विपक्ष विरोध कर रहा है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK