मल्‍टीमीडिया डेस्‍क। COld Wave : आखिर सर्दी ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। रविवार को देश के कई शहरों में शीतलहर महसूस की गई। सोमवार की सुबह जब लोग उठे तो इसका असर बना हुआ था। राजधानी दिल्‍ली में आज सुबह से सीजन का सबसे ठंडा दिन बताया जा रहा है। दूसरी तरफ शीतलहर के साथ ही घना कोहरा छाने लगा है। इसके चलते उत्‍तर भारत में कई रूट पर ट्रेन व हवाई यातायात प्रभावित हो सकता है। स्‍कायमेट का अनुमान है कि राजधानी दिल्ली समेत चंडीगढ़, अमृतसर, करनाल, गंगानगर, मेरठ और लखनऊ सहित उत्तर भारत के कई शहरों में कोहरे के कारण में दृश्यता शून्य तक जा सकती है। एयरप्‍लेन और ट्रेन से सफर करने वाले यात्रियों अपने गंतव्‍य तक पहुंचने में अधिक समय लग सकता है। पिछले 24 घंटों के दौरान उत्‍तर भारत कोहरे की चपेट में रहा। यहां पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, ओडिशा और पूर्वोत्तर के कई इलाकों में कोहरा छाया रहा।

अगले 24 घंटों में मध्‍य भारत तक शीतलहर का असर

मौसम के जानकारों का अनुमान है कि अगले 24 घंटों के दौरान मध्‍य भारत तक शीतलहर पहुंच सकती है। नॉर्थईस्टर्न मैदानी इलाकों में अधिक ठंडी हवाएं और मजबूत होंगी और मध्य भारत तक पहुँचेंगी। इसके चलते न्यूनतम तापमान दो से तीन डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है।

अमृतसर में दृश्‍यता शून्‍य तक पहुंची

नार्थ ईस्‍ट इंडिया के कई भागों में दृश्‍यता बाधित हो रही है। राजस्‍थान, पंजाब, हरियाणा में घना कोहरा देखा गया है। इसके साथ ही अमृतसर में दृश्‍यता शून्‍य तक पहुंच चुकी है। स्‍वर्ण मंदिर को कोहरे में ढंका हुआ देखा जा सकता है।

Weather Update : देश के 15 से अधिक राज्‍यों के इन 85 शहरों में 18 दिसंबर तक बारिश के आसार, देखें पूरी लिस्‍ट

अमृतसर में 21 और 22 दिसंबर को बारिश होने की संभावना

अनुमान है कि 19 दिसंबर तक अमृतसर में 21 और 22 दिसंबर को बारिश होने की संभावना है। चंडीगढ़ के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सोमवार सुबह कोहरे के कारण खराब दृश्यता के कारण दो उड़ानों को रद्द कर दिया गया क्योंकि न्यूनतम तापमान 8.5 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया था। एयरपोर्ट अथॉरिटीज ने कहा कि कुल्लू जाने वाली Air India की फ्लाइट और दिल्ली से Goair की फ्लाइट कोहरे के कारण रद्द कर दी गई। अन्य उड़ानों में 20 से 30 मिनट की देरी हुई। मौसम विभाग ने जानकारी देते हुए कहा कि सोमवार सुबह दृश्यता घटकर 150 मीटर रह गई। इस सीजन में यह पहली बार है जब दृश्यता इस हद तक कम हुई है।

Posted By: Navodit Saktawat

fantasy cricket
fantasy cricket