Corona Vaccine News : कोरोना से देश एवं दुनिया की जंग जारी है। इसकी वैक्‍सीन कब आएगी, कितनी असरकारक रहेगी, यह तो समय ही बताएगा लेकिन जानकारों ने यह स्‍पष्‍ट कर दिया है कि वैक्‍सीन को ही सब कुछ समझने की भूल ना करें। सावधानियों का ध्‍यान रखना ही पड़ेगा। खास बात यह है कि टीका लगने के दो महीने बाद भी संक्रमण का खतरा कायम रहेगा और उसके बाद ही इम्‍युनिटी विकसित हो पाएगी। ट्रायल में शामिल विशेषज्ञ व अन्य डॉक्टरों का कहना है कि कोई यह समझता है कि टीका लगने के तुरंत बाद कोरोना के संक्रमण से बचाव हो सकेगा तो ऐसा बिल्कुल नहीं है। टीके की पहली डोज लगने के दो माह तक संक्रमण का जोखिम बना रहेगा। बूस्टर डोज लगने के 28 दिन बाद और कुल मिलाकर दो माह में इम्युनिटी विकसित होगी। शनिवार को एम्स के पूर्व निदेशक डॉ. एमसी मिश्रा ने कोरोना के स्वदेशी टीके के तीसरे चरण के ट्रायल में स्वेच्छा से पहली डोज लेने के बाद कहा कि टीका उपलब्ध होने के बाद भी लोगों को बचाव के नियमों का पालन करते रहना होगा। कोरोना का टीका आने के बाद भी मास्क का इस्तेमाल जारी रखना पड़ेगा।

पिछले कुछ समय से डाक्टर यह बात लोगों को समझाते रहे हैं। मिश्रा ने कहा कि मैंने वॉलेंटियर के तौर पर एम्स में टीका लगवाया है। डॉक्टरों ने उनसे पहले सहमति पत्र पर हस्ताक्षर कराया। इसके बाद ब्लड प्रेशर जांच की और आरटीपीसीआर जांच के लिए सैंपल भी लिए। इसके बाद एक इंजेक्शन दिया। यह भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के सहयोग से भारत बायोटेक द्वारा विकसित टीके (कोवैक्सीन) के ट्रायल का हिस्सा है।

----------------------

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021