देश में कोरोना केस लगातार बढ़ रहे हैं। महामारी की दूसरी लहर के चलते हर दिन चार लाख से अधिक केस सामने आ रहे हैं। संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए राज्य सरकार सख्त कदम उठा रही है। अब तमिलनाडु और राजस्थान में 10 मई से लॉकडाउन लगने जा रहा है। जो 24 मई तक लागू रहेगा। जबकि कर्नाटक में शुक्रवार शाम और केरल में आज (शनिवार) सुबह से लॉकडाउन प्रभावी हो गया।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने एक बयान जारी कर कहा कि संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन के अलावा अन्य विकल्प नहीं है। उन्होंने कहा जिलाधिकारियों के साथ समीक्षा करने और स्वास्थ्य सेवा से जुड़े विशेषज्ञों की सलाह पर राज्य में तालाबंदी करने का फैसला लिया गया है। स्टालिन ने कहा, 'आवश्यक सामान और जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें और दफ्तर बंद रहेंगे।' विपक्षी दल अन्नाद्रमुक और पीएमके ने सीएम के फैसला पर सहमति जताई है। लेकिन भाजपा ने लॉकडाउन के फैसले को जल्दबाजी में उठाया गया कदम बताया है।

वहीं राजस्थान सरकार ने 10 से 24 मई तक राज्य में लॉकडाउन का ऐलान किया है। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद रहेगा। किराना, दूध, सब्जी, फल और अन्य आवश्यक सामान की दुकानें कुछ समय के लिए खुलेंगी। इधर केरल में 16 मई पाबंदियां रहेंगी। जबकि मणिपुर के इंफाल जिले में 17 मई तक कर्फ्यू की घोषणा की गई है। इस दौरान आवश्यक सेवाओं, कोविड टेस्ट और वैक्सीनेशन के लिए घर से बाहर जाने की अनुमति है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags