नई दिल्ली Coronavirus Case Update। कोरोना महामारी की दूसरी लहर देश में अब धीरे-धीरे पूरी तरह से मंद पड़ गई है। अब देश में कोरोना संक्रमण के एक्टिव केस 74 दिनों बाद सबसे कम रह गए हैं। साथ ही लगातार 5 दिन तक नए कोरोना संक्रमण के मामले भी 70 हजार से कम आ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक बीते 24 घंटों में 60,753 नए कोरोना केस आए और 1647 संक्रमितों की जान चली गई है। वहीं एक दिन में 97,743 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं यानी कि शुक्रवार को 38,637 एक्टिव केस कम हो गए। इससे पहले गुरुवार को 62,480 नए कोरोना केस दर्ज किए गए थे। गौरतलब है कि देश में अब कोरोना महामारी का रिकवरी रेट बढ़कर 96.16 फीसद हो गया है और प्रतिदिन पॉजिटिविटी रेट 2.98 फीसद है।

कोरोना वैक्सीनेशन का आंकड़ा

बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस की 33,00,085 वैक्सीन लगाई गईं। इसके अलावा 97,743 लोग संक्रमण से स्वस्थ हुए। देश में महामारी से बचाव के लिए 16 जनवरी को वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हुई थी। तब से लेकर अभी तक 27,23,88,783 खुराकें कोरोना वैक्सीन की दी जा चुकी है।

अब तक कोरोना महामारी से 2,86,78,390 लोग ठीक

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक देश में अभी तक कुल संक्रमितों का आंकड़ा 2,98,23,546 हो चुका है, वहीं बीमारी के मरने वाले लोगों की संख्या 3,85,137 है। सक्रिय मामलों की बात करें तो फिलहाल यहां 7,60,019 लोग संक्रमण से जूझ रहे हैं और 2,86,78,390 लोग अब तक कोरोना को मात दे चुके हैं। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के मुताबिक भारत में शुक्रवार को कोरोना वायरस के लिए 19,02,009 सैंपल टेस्ट किए गए थे, वहीं अभी तक कुल 38,92,07,637 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं।

बीते 24 घंटे में कोरोना की स्थिति

कुल कोरोना केस- दो करोड़ 98 लाख 23 हजार 546

कुल डिस्चार्ज- दो करोड़ 86 लाख 78 हजार 390

कुल एक्टिव केस- 7 लाख 60 हजार

कुल मौत- 3 लाख 85 हजार 137

जल्द ही शुरू होगा कोरोना वैक्सीन का निर्यात

भारत जल्द ही कोरोना वैक्सीन का निर्यात करने पर विचार कर रहा है। देश में जैसी ही घरेलू जरूरतें पूरी हो जाती है, उसके बाद कोरोना वैक्सीन के निर्यात को मंजूरी दी जा सकती ह। देश के कोविड-19 कार्यबल के प्रमुख ने शुक्रवार को यह बात कही। डॉ विनोद के पॉल ने बताया कि भारतीय लोगों के महत्वपूर्ण हिस्से को टीका लगाने की हमारी तत्काल जरूरत पूरी हो जाए और विभिन्न स्रोतों से टीकों का स्टॉक मिल जाए, इसके बाद हम दूसरे देशों की सेवा और उन्हें टीके प्रदान करने की भूमिका निभाना चाहेंगे।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags