Coronavirus से निपटने के उपायों के तहत पुणे स्थित एक कंपनी ने देश की पहली स्वदेशी कोविड-19 टेस्टिंग किट विकसित की है। इसे भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) ने स्वीकृति दे दी है। माईलैब डिस्कवरी सोल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड के एक प्रतिनिधि ने बताया, स्वदेशी कोविड-19 टेस्टिंग किट को ICMR ने मंजूरी दे दी है। एक किट की कीमत 80,000 रुपए है। जानकारी के मुताबिक, एक किट से 100 मरीजों की जांच की जा सकती है। कंपनी हर हफ्ते एक से डेढ़ लाख किट का उत्पादन कर सकती है। ICMR के मुताबिक, कोविड-19 की जांच के लिए 118 लैब उपलब्ध हैं।

चीन में हुई थी यह बड़ी गलती

इस बीच, चीन की सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दावा किया है कि वुहान में कुछ अस्पतालों ने Coronavirus के संक्रमण के शुरुआती दौर में स्थानीय लोगों के बीच दहशत फैलने से रोकने के लिए डॉक्टरों को मास्क पहनने से रोका था।

मध्य चीन के हुबेई प्रांत में स्टेटिस्टिक्स ब्यूरो के उप निदेशक ये किंग पिछले लगातार 60 दिन से वुहान की कहानियां दर्ज कर रहे हैं। वुहान Coronavirus के संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित था और 23 जनवरी से शहर लॉकडाउन था।

ये किंग ने सरकारी समाचारपत्र ग्लोबल टाइम्स से कहा, Coronavirus संक्रमण फैलने के शुरुआती दौर में कुछ अस्पतालों के अधिकारियों ने डॉक्टरों को मास्क पहनने की अनुमति नहीं दी ताकि लोगों के बीच दहशत नहीं फैले, लेकिन दूसरे अस्पतालों ने हालात को बेहतर तरीके से संभाला। यह पिछले साल दिसंबर से वुहान में कोविड-19 के मामले शुरू होने के बाद किसी अधिकारी का इस तरह का पहला बयान है।

Posted By: Arvind Dubey