Coronavirus Live Update: कोरोना वायरस के कारण चीन में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। चीन ने अपने सभी देशवासियों के लिए अलर्ट जारी किया है। इस बीच, बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास ने बड़ा फैसला लिया है। भारतीय दूतावास ने 26 जनवरी को वहां होने वाले Republic Day रिसेप्शन रद्द कर दिया है। साथ ही हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। +8618612083629 और +8618612083617 पर फोन लगाकर चीन में फंसे लोगों के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है। इससे पहले सऊदी अरब में काम कर रही एक भारतीय नर्स भी इसकी चपेट में आ गई है। हालांकि भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसका खंडन किया है। इस बीच, सऊदी अरब के अस्पताल में काम करने वाली करीब 100 भारतीय नर्सों की जांच की गई है। वहीं चीन में अलर्ट जारी है।

विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने बताया कि प्रभावित नर्स का असीर नेशनल अस्पताल में इलाज हो रहा है और उसकी हालत में सुधार है। वहीं केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने विदेश मंत्री एस. जयशंकर से मांग की है कि खाड़ी देश के सामने मामला उठाया जाए और विशेष उपचार सुनिश्चित किया जाए।

विदेश राज्यमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा,अल-हयात अस्पताल में काम करने वाली नर्सों में से ज्यादातर केरल की हैं। करीब सौ भारतीय नर्सों की जांच कराई गई है। अस्पताल प्रबंधन और सऊदी विदेश मंत्रालय से लगातार संपर्क रखा जा रहा है। Coronavirus से उत्पन्न खतरे को देखते हुए 22 जनवरी तक 60 उड़ानों से आए कुल 12,828 यात्रियों की जांच की गई, लेकिन कोई पॉजिटिव मामला नहीं पाया गया है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीती सुदान हालात पर नजर रखे हुए हैं। उन्होंने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से अस्पतालों में गंभीर हालत वाले रोगियों के आइसोलेशन और वेंटीलेटर मैनेजमेंट के संबंध में तैयारी की समीक्षा करने को कहा है। अंतर की पहचान करने और निगरानी और लैब सपोर्ट के क्षेत्र में कोर क्षमता मजबूत करने के लिए कहा गया है।

Coronavirus की आशंका को लेकर दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलुरु हैदराबाद और कोचीन के हवाई अड्डों पर थर्मल जांच की जा रही है, ताकि संदिग्ध की पहचान कर उसे इलाज मुहैया करवाया जा सके। 17 जनवरी को एक ट्रैवल एडवाइजरी जारी की गई थी और उसे मंत्रालय की वेबसाइट के साथ ही ट्विटर हैंडल पर रखा गया।

चीन में भारतीयों की सहायता के लिए हॉटलाइन

चीन में भारतीय दूतावास ने मदद के लिए हॉटलाइन स्थापित की है। Coronavirus प्रभावित प्रांत में फंसे भारतीयों के लिए चीन भोजन आपूर्ति समेत विभिन्न प्रकार की मदद मुहैया करा रहा है।

Posted By: Arvind Dubey