Coronavirus Live Updates: महाराष्ट्र सरकार ने Standalone Liquor Shops को भी दी अनुमति

Tue, 05 May 2020 04:48 PM (IST) | Neeraj Vyas

HIGHLIGHT

  1. कोरोना के मरीज 46 हजार पार
  2. मुंबई में 17 मई तक धारा 144 लागू
  3. तीसरे चरण के लॉकडाउन में रियायत

देश इस वक्त कोरोना महामारी के महासंकट से गुजर रहा है। कोरोना मरीजों की संख्या 46 हजार को पार कर चुकी है, वहीं रोजाना हजारों नए मरीज सामने आ रहे हैं। इस मुश्किल वक्त पर संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन एक बार फिर बढ़ाया जा चुका है। इसे 17 मई तक कर दिया गया है। हालांकि लॉकडाउन के तीसरे चरण में सरकार ने लोगों को कई राहत भी दी हैं। सबसे बड़ी राहत अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को मिली है। सरकार ने राज्यों को शर्तों के साथ मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। कोरोना संक्रमण से देश में 1500 से ज्यादा मौतें भी हो चुकी हैं। इस बीच प्लाज्मा थेरेपी का ट्रायल कई राज्यों में जारी है, इसके शुरुआती परिणाम उत्साहवर्धक नजर आए हैं। वहीं सरकार का ध्यान अब कोरोना संक्रमण रोकने के साथ ही देश की बिगड़ी हुई अर्थव्यवस्था सुधारने पर भी टिक गया है।

05 May 2020
  • 04:49 PM

    Standalone शराब दुकानों को अनुमति

    महाराष्ट्र सीएमओ ऑफिस के सीनियर आईएएस अधिकारी भूषण गंगरानी ने बताया कि सरकार ने एक लेन में सिर्फ पांच गैर जरूरी सेवाओं वाली दुकानों को खोलने की अनुमति दी है। इसके साथ ही Standalone शराब दुकानों को भी सरकार की ओर से अनुमति दी गई है। इसके साथ ही दुकानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा गया है। 

  • 09:53 AM

    मुंबई में 17 मई तक धारा 144 लागू

    देश की आर्थिक राजधानी कहलाने वाले मुंबई शहर में कोरोना ने जमकर कहर मचाया है। यहां से हजारों मरीज सामने आ चुके हैं। अब मुंबई पुलिस ने निर्णय लिया है कि यहां 17 मई तक धारा 144 लागू रखी जाएगी। इस दौरान कोई भी शख्स अनावश्यक सर्विसों के लिए घर से बाहर नहीं निकल सकेगा। सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी की सूरत में ही निकलने की अनुमति होगी।

  • 09:52 AM

    देश में 46 हजार से ज्यादा संक्रमित

    देश में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना मरीजों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती जा रही है। मरीजों का आंकड़ा 46 हजार को पार कर गया है वहीं इस घातक वायरस के चलते अब तक 1568 मरीजों की जान भी जा चुकी है। 
     

बड़ी खबरें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK