Coronavirus Second Wave नई दिल्‍ली । देश में कोरोना संक्रणम की दूसरी लहर को लेकर अब राहत देने वाली खबर सामने आई है। बीते 4 दिनों तक लगातार 4 लाख से अधिक कोरोना संक्रमण के नए मामले सामने आने के बाद अब इसमें दो दिन से गिरावट दर्ज की जा रही है। ऐसे में कोरोना की दूसरी लहर को लेकर इसे अच्छा संकेत माना जा रहा है। गौरतलब है कि स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के मुताबिक बीते 24 घंटों के दौरान 3,48,421 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। ऐसे में स्वास्थ्य जगत से जुड़े विशेषज्ञों का भी मानना है कि शायद देश में कोरोना की दूसरी लहर का पीक अब निकल चुका है। आपको

धीरे-धीरे कम होते जाएगा संक्रमण

सफदरजंग अस्‍पताल के कम्‍यूनिटी मेडिसिन डिपार्टमेंट के प्रमुख डॉक्‍टर जुगल किशोर का कहना है कि देश में दूसरी लहर का उच्‍चतम स्‍तर अब खत्‍म हो चुका है। अब कोरोना संक्रमण के नए मामलों में धीरे-धीरे गिरावट दर्ज की जाएगी। साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि राष्‍ट्रीय स्‍तर पर दूसरी लहर का पीक जरूर खत्‍म हो चुका है लेकिन राज्‍य के स्‍तर पर अभी ये पूरी तरह से समाप्‍त नहीं हुआ है।

वायरस के नए म्यूटेंट पर निर्भर करती है तीसरी लहर

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आने पर डॉक्‍टर जुगल किशोर ने कहा कि कोई भी लहर वायरस के बदलते स्‍वरूप पर निर्भर करती है। यदि वायरस का म्‍यूटेशन जारी रहता है तो तीसरी लहर आने की आशंका बनी रहती है। ऐसे में वायरस का बदला स्वरूप ऐसे लोगों को एक बार फिर संक्रमित कर सकता है, जो पहले एक बार पॉजिटिव हो चुके हैं। डॉक्टर जुगल किशोर का कहना है कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान देश में करीब 50 फीसद आबादी इसके चपेट में आ चुकी है।

तीसरी लहर आई तो बच्चों को ज्यादा खतरा

डॉक्टर जुगल किशोर का कहना है कि तीसरी लहर में नवजात बच्‍चे भी ज्यादा संक्रमित हो सकते हैं। उनका कहना है कि तीसरी लहर की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है, लेकिन इसको रोका भी जा सकता है। इसके लिए तेजी से वैक्‍सीनेशन करना होगा। अधिक से अधिक वैक्‍सीनेशन होने की सूरत में वायरस का खतरनाक रूप इससे बदल जाएगा और हम इस लगाम लगा सकेंगे।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags