रंजन दवे, जोधपुर। सुबह खुले मौसम के साथ ही विमानों की तेज गर्जना में राफेल ने जोधपुर में अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। भारत और फ्रांस के बीच संयुक्त युद्धाभ्यास डेजर्ट नाइट 21 के दूसरे दिन दोनों ही देशों के पायलेट्स में राफेल पर उड़ान भरी। इसके बाद सुखोई और मिराजने भी जोधपुर एयर बेस स्टेशन से उड़ान भर देश की पश्चिमी सीमा से सटे क्षेत्रो का दौरा तय किया।जोधपुर का साफ मौसम दोनों देशों के पायलट्स को रास आया और उन्होंने फ्लाइंग को एन्जॉय किया। जोधपुर एयरबेस पर युद्धाभ्यास के दूसरे दिन सबसे पहले फ्रांस के राफेल्स ने उड़ान भरी। फिर एक के बाद एक कर कई अन्य विमानो ने आसमान ने उड़ान भरी। जोधपुर से उड़ान भरने के साथ ही यह सभी फाइटर प्लेन पाकिस्तान सीमा क्षेत्र की ओर बढ़े। जहां दोनों ही देशों के वायु सैनिकों ने अलग अलग फॉर्मेशन से टार्गेट्स को हिट्स किया। दोनों देशों के फाइटर्स प्लेन ने अपनी तकनीक और सूजबूझ के जरिये एक दूसरे के बनाए काल्पनिक ठिकानों में प्रवेश करने का प्रयास किया। एक विमान से दूसरे विमान को फॉलो कर उसे अपने एरिया से बाहर भगाना और विमानों को छिकाते हुए एक दूसरे के वायु क्षेत्र में प्रवेश करने जैसे अभ्यास किए गए। तकरीबन 2 घंटे के फ्लाइंग सेक्शन में दोनों ही देशों के पायलट ने हमला करने और उससे रक्षा करने के गुर आजमाए। फ्लाइंग सेशन कंप्लीट होने के बाद फाइटर विमान के पायलट के लिए टेक्निकल सेशन भी हुए ,जिस पर उनकी परफॉर्मेंस की पूरी रिपोर्ट पर चर्चा हुई। इसके साथ ही एक्सरसाइज के दौरान आने वाली खामियों और कमियों पर भी डिस्कशन हो रहा है जिससे कि फाइटर प्लेन की कार्य योजना को कुशल बनाया जा सके।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags