उत्‍तर प्रदेश सरकार ने आज एक महत्‍वपूर्ण घोषणा में स्‍प्‍ष्‍ट कर दिया है कि कोरोना महामारी के बीच विवाह आयोजन जारी रह सकते हैं, बशर्ते नियमों का उल्‍लंघन ना हो। सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा है कि कोरोना गाइडलाइन के नाम पर अनावश्‍यक रूप से लोगों को परेशान नहीं किया जाना चाहिये। आयोजकों को भी अनुमति लेने की जरूरत नहीं है, बस वे पुलिस को इसकी सूचना जरूर दें। उन्होंने कहा कि विवाह-समारोह के लिए नजदीकी पुलिस थाना या चौकी को सूचना देकर और कोविड-19 की गाइडलाइन्स का पूर्ण पालन करते हुए यह आयोजन किए जा सकते हैं। शादी-समारोह में बैंड बाजे पर कोई रोक नहीं है। यदि कोई पुलिस या प्रशासनिक अधिकारी रोकेगा तो कार्रवाई की जाएगी। उप्र में कोरोना प्रोटोकाल को लेकर हाल ही में जारी गाइडलाइन्स को लेकर उन तमाम परिवारों में असमंजस भी है, जिनके यहां शादी-समारोह होना है। ऐसे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्पष्ट कर दिया है कि आयोजन के लिए किसी से अनुमति लेने की जरूरत नहीं है। सिर्फ नजदीकी थाने-चौकी को सूचना भर देनी है। साथ ही पुलिस-प्रशासन को भी स्पष्ट चेताया है कि गाइडलाइन्स के नाम पर किसी का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। योगी ने यह भी साफ कर दिया कि शादी-समारोह में शामिल होने के लिए अनुमन्य की गई लोगों की संख्या इस आयोजन में सम्मिलित होने वाले अतिथियों और पारिवारिक सदस्यों के संबंध में है। खुले स्थान पर निर्धारित क्षमता से 40 फीसद लोगों को शामिल किया जा सकता है।

शारीरिक दूरी और सैनिटाइजर आदि का ध्यान जरूर रखना होगा। इसी बीच यह गलतफहमी भी प्रचारित होने लगी कि बैंड-बाजे पर रोक है, प्रशासन की अनुमति लेनी होगी और कैंटरिग या बैंड के कर्मी भी उन सौ लोगों में गिने जाएंगे। इसे गंभीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री ने गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर आयोजित बैठक में स्थिति स्पष्ट कर दी।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021