Drugs Case Updates: मुंबई ड्रग्स केस में रोज नया घटनाक्रम सामने आ रहा है। ड्रग्स केस में बॉलीवुड सितारों के खिलाफ कार्रवाई के बाद एनसीबी के जोनल प्रमुख समीर वानखेड़े चर्चा में हैं। वहीं महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने समीर वानखेड़े को निशाने पर ले रखा है। नवाब मलिक ने हाल के दिनों में समीर वानखेड़े पर कई गंभीर आरोप लगाए। इस बीच, समीर वानखेड़े की पत्नी और मराठी एक्ट्रेस क्रांति रेडकर ने न्याय की गुहार लगाते हुए उद्धव ठाकरे को चिट्टी लिखी है।

क्रांति रेडकर ने लिखा है, '... हमें हर दिन लोगों के सामने अपमानित किया जा रहा है। छत्रपति शिवाजी महाराज के राज्य में एक महिला की गरिमा के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। अगर बालासाहेब आज यहां होते, तो उन्हें यह पसंद नहीं होता...वह (बालासाहेब) आज यहां नहीं हैं लेकिन आप (उद्धव) हैं। हम उन्हें आप में देखते हैं, हमें आप पर भरोसा है। मुझे विश्वास है कि आप मेरे और मेरे परिवार के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। एक मराठी के रूप में, मैं न्याय की आशा के साथ आपकी ओर देखता हूं। मैं आपसे न्याय का अनुरोध करता हूं।'

धोखाधड़ी के केस में केपी गोसावी गिरफ्तार, आर्यन खान की बेल पर आज भी सुनवाई

इससे पहले इस केस में मुख्य गवाह केपी गोसावी (किरण गोसावी उर्फ KP Gosavi) को पुणे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को पिछले दिनों से KP Gosavi की तलाश थी। किरण गोसावी को 2018 धोखाधड़ी के एक मामले में हिरासत में लिया गया है जिसमें वह फरार था। 2019 में पुणे सिटी पुलिस ने उसे वांछित घोषित किया था। वह तब से लापता था और उसे केवल एनसीबी गवाह के रूप में क्रूज रेड के दौरान देखा गया था। 14 अक्टूबर को पुलिस ने उसके खिलाफ लुकआउट सर्कुलर जारी किया था। वहीं आर्यन खान की जमानत अर्जी पर गुरुवार को भी सुनवाई जारी रहेगी। माना जा रहा है कि आर्यन खान को आज जमानत नहीं मिली तो उसकी दिवाली भी सलाखों के पीछे गुजरेगी।

गिरफ्तारी के बाद क्या बोला केपी गोसावी

पुणे पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद गोसावी ने कहा, कम से कम एक मंत्री या महाराष्ट्र से विपक्ष का कोई भी नेता मेरे साथ खड़ा होना चाहिए। कम से कम उन्हें मुंबई पुलिस से अनुरोध करना चाहिए कि मैं क्या मांग कर रहा हूं (प्रभाकर सेल की सीडीआर और चैट जारी करने के लिए)। एक बार उनकी रिपोर्ट आने के बाद सब कुछ साफ हो जाएगा।

क्रूज से शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी के समय KP Gosavi भी पुलिस के साथ था। उसे मुख्य गवाह बताया गया। उसी समय की आर्यन खान के साथ वाली KP Gosavi की सेल्फी भी वायरल हुई थी। अब पुणे पुलिस KP Gosavi को कोर्ट में पेश करेगी और कस्टडी मांगेगी। मुंबई पुलिस भी उससे पूछताछ करना चाहती है, लेकिन यह कैसा होगा, इस पर अभी कानूनी अड़चने हैं। KP Gosavi के बॉडीगार्ड प्रभाकर सैल ने आरोप लगाया है कि KP Gosavi ने करोड़ों की जबरन वसूली की है और इसमें एनसीबी के जोनल प्रमुख समीर वानखेड़े भी शामिल हैं।

समीर वानखेड़े के खिलाफ जबरन वसूली के आरोपों की सतर्कता जांच का नेतृत्व कर रहे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के उप महानिदेशक ज्ञानेश्वर सिंह ने बुधवार को कहा था कि जांचकर्ता मामले से जुड़े दो प्रमुख व्यक्तियों केपी गोसावी और प्रभाकर सेल तक नहीं पहुंच सके। कई अन्य लोगों को जांच दल के समक्ष पेश होने के लिए नोटिस दिया गया है, लेकिन गोसावी और सेल एनसीबी के रिकॉर्ड पर संपर्क में उपलब्ध नहीं थे।

जानिए कौन है केपी गोसावी

केपी गोसावी, आर्यन खान मामले में एनसीबी के गवाह थे। क्रूज रेव पार्टी से आर्यन के गिरफ्तार होने के बाद गोसावी ने उसके साथ एक फोटो क्लिक कर सोशल मीडिया पर शेयर की, जो वायरल हो गई। तब से, आर्यन खान मामले में एनसीबी के स्वतंत्र गवाह होने का दावा करने वाले गोसावी चर्चा में हैं। उनके पूर्व सहयोगी प्रभाकर सेल ने दावा किया कि उन्हें आर्यन खान मामले में गवाह बनाया गया था, जहां समीर वानखेड़े ने उन्हें कोरे कागज पर हस्ताक्षर करने के लिए कहा था। गोसावी और एक अन्य व्यक्ति के बीच टेलीफोन पर हुई बातचीत का हवाला देते हुए सेल ने कहा कि आर्यन की रिहाई के बदले 25 करोड़ रुपये मिलने की व्यवस्था है। सेल ने आरोप लगाया था कि राशि में से समीर वानखेड़े को कुछ मिलना था।

Posted By: Arvind Dubey