कर्मचारी भविष्य निधि बेहद ही उपयोगी है। यह अपने ग्राहकों के भविष्य और जरूरत का हमेशा ध्यान रखती है। पीएफ में जमा पैसा कर्मचारियों के हमेशा काम आता है। कर्मचारी को एक वित्तवर्ष में 1.5 लाख रुपए तक के योगदान पर आयकर में छूट मिलती है। साथ ही फ्री इंश्योरेंस और पेंशन लाभ भी मिलता है। आज हम आपको ईपीएफओ के कुछ खास फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं। आइए जानते हैं।

फ्री इंश्योरेंस

पीएफ अकाउंट होल्डर को अपने सेवाकाल के समय मौत होने पर 7 लाख रुपए तक का फ्री इंश्योरेंस मिलता है। पहले पीएफ धारकों को 6 लाख रुपए का कवर मिलता था। ईडीएलआई योजना में बीमा कवर के लिए कर्मचारी को अलग से कोई प्रीमियम नहीं देना पड़ता।

पेंशन

पीएफ कर्मचारी 58 साल के बाद पेंशन के लिए योग्य होता है। हालांकि इसके लिए न्यूनतम 15 वर्ष नियमित मासिक पीएफ योगदान होना जरूरी है।

लोन

ईपीएफओ में कर्मचारियों को लोन सुविधा भी मिलती है। संकट के वक्त खाताधारक पीएफ बैलेंस के अगेंस्ट ऋण ले सकता है। पीएफ लोन पर ब्याज दर केवल 1 फीसद लगती है। यह लोन कम अवधि को होता है। इसके भुगतान को 36 महीनों के अंदर करना होता है।

आंशिक निकासी

ईपीएफओ चिकिस्ता और वित्तीय संकट पर नियम और शर्तों के साथ आशिंक निकासी की परमिशन देता है।

होम लोन का पुनर्भुगतान

कर्मचारी पीएफ अकाउंट से होम लोम के पुनर्भुगतान भी कर सकता है। ईपीएफओ के नियमों के अनुसार नया घर खरीदने या निर्माण के लिए अपने खाते की 90 फीसद राशि का उपयोग कर सकता है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags