Google Doodle Winner 2019: गूगल डूडल इंडिया कम्पटिशन 2019 का नतीजा घोषित कर दिया गया है। हरियाणा की 7 साल की दिव्यांशी सिंघल को विजेता घोषित किया गया है। गुड़गांव में दूसरी कक्षा की छात्रा दिव्यांशी ने 'वॉकिंग ट्री' की थीम पर डूडल बनाया था। इस स्पर्धा में देशभर से पहली से 10वीं कक्षा के 1 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया था। दिव्यांसी ने अपने डूडल में यह कल्पना की थी कि भविष्य में ऐसे पेड़ पौधे हों, जो एक स्थान से दूसरे स्थान पर जा सकें। अपने इस डूडल के पीछे की कहानी बताते हुए दिव्यांशी ने कहा, गर्मी की छुट्टियों में जब मैं अपने दादा-दादी के यहां गई थी तो देखा कि वहां पेड़ काटे जा रहे हैं। मुझे बुरा लगा और सोचा कि काश, इन पेड़ों के भी पैर होते तो वे यहां से कहीं और चले जाते और कटने से बच जाते। भारत में बाल दिवस के दिन गूगल ने इस डूडल को उपयोग किया था।

Google इंडिया ने बाल दिवस पर इस विशेष डूडल का उपयोग किया था। इसका शीर्षक "द वॉकिंग ट्री" है - जो हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिए वनों की कटाई से बचने के लिए पेड़ों की रक्षा करने के संदेश को दर्शाता है। अगस्त में इस प्रतियोगिता के लिए गूगल ने पेंटिंग्स आमंत्रित की थीं। बच्चों को थीम दी गई थी "जब मैं बड़ा होता हूं, मुझे आशा है ..."।

Posted By: Arvind Dubey

fantasy cricket
fantasy cricket