सुमित शर्मा, अलीगढ़ : हम किस दुनिया में रह रहे हैं...। आज मेरे आंसू नहीं थम रहे...। दरिदों को फांसी दो...। दरिदों के लिए मौत की सजा भी कम है...। बेटियां कब सुरक्षित होंगी...। अब बर्दाश्त नहीं...। ऐसे तमाम स्लोगन व दलीलों से मंगलवार को सोशल मीडिया भरा पड़ा था। दुष्कर्म पीड़िता की मौत के बाद आज न सिर्फ बॉलीवुड व राजनीतिक हस्तियां ही नहीं, हाथरस की बेटी की मौत की खबर जिसने भी सुनी, उसका दर्द व गुस्सा छलक उठा। ढाई घंटे में ही 52 हजार ट्वीट्स् के साथ हैशटैग जस्टिस टॉप ट्रेंड पर आ गया।

गंभीर हालत में दिल्ली भेजा, लेकिन नहीं बची

जिंदगी-मौत से जूझ रही दुष्कर्म पीड़िता की सलामती के लिए लोग दिल्ली शिफ्ट होते ही सोशल मीडिया पर दुआ कर रहे थे। मंगलवार सुबह मौत की खबर मिली तो सोशल मीडिया को हथियार बनाकर लोगों ने आवाज उठाई। सुबह करीब 10 बजे 11 हजार ट्वीट के साथ हैशटैग आरआइपी (रेस्ट इन पीस) तीसरे नंबर पर ट्रेंड करने लगा।

अगले घंटे में दूसरे नंबर पर आ गया। ढाई घंटे में 52 हजार ट्वीट हो गए और हैशटैग सबसे ऊपर ट्रेंड करने लगा। दोपहर एक बजे 81 हजार ट्वीट हो चुके थे। दो बजे एक लाख नौ हजार, तीन बजे 78 हजार, शाम चार बजे एक लाख, जबकि साढ़े चार बजे एक लाख 24 हजार लोगों ने हाथरस की बेटी के लिए ट्टिवटर पर इंसाफ मांगा। हैशटैग निर्भया, हैशटैग हाथरस को भी लोगों ने खूब ट्वीट किया।

गुस्से में बॉलीवुड

हाथरस में इस क्रूरता भरी घटना को देखकर गुस्से में और परेशान हूं। हमारा कानून इतना सख्त हो कि सजा के बारे में सोचकर ही रेपिस्ट भय से कांपने लगे। इन आरोपितों को फांसी पर लटका देना चाहिए। - अक्षय कुमार, अभिनेता

दुखद, अमानवीय, बहुत-बहुत दुखद। हमने आपको विफल कर दिया। - उर्मिला मातोंडकर, अभिनेत्री

दुष्कर्मियों को सार्वजनिक रूप से गोली मारो। हर साल बढ़ रहे सामूहिक दुष्कर्म का क्या समाधान है? इस देश के लिए दुखद और शर्मनाक दिन है। - कंगना रनोट, अभिनेत्री

हर किसी को सम्मान के साथ जीने का हक है। इन अपराधियों को कड़ी सजा हो। - ऋचा चड्ढा, अभिनेत्री

इस क्रूरता व भयावह अपराध के दोषियों को सार्वजनिक रूप से फांसी देनी चाहिए। - रितेश देशमुख, अभिनेता

फोरेंसिक जांच शुरू

हाथरस में युवती के साथ हुए दुष्कर्म कांड की जांच आगरा फोरेंसिक लैब ने मंगलवार से शुरू कर दी है। लैब दस दिन में अपनी रिपोर्ट हाथरस पुलिस को दे देगी।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020