हैदराबाद Hyderabad Municipal Election। तेलंगाना में निकाय चुनावों को लेकर भाजपा ने पूरी ताक झोंक दी है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के बाद अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी आज चुनावा रैली करने के लिए हैदराबाद पहुंच चुके हैं। भारतीय जनता पार्टी निकाय चुनाव के लिए यहां पूरी ताकत से प्रचार में लगी है। भाजपा के कई बड़े नेता यहां रोज ही रैलियां कर रहे हैं। अमित शाह से पहले हैदराबाद में योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और स्मृति ईरानी के अलावा पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी यहां रैली कर चुके हैं।

निकाय चुनाव में हो रहा कड़ा मुकाबला

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बेगमपेट एयरपोर्ट पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया गया। हैदराबाद में स्थानीय निकाय चुनावों को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस), एआइएमआइएम और बीजेपी के बीच कड़ा मुकाबला हो रहा है। भाजपा चुनाव अभियान चला रही है और इस दौरान पार्टी के कई उच्च प्रोफाइल नेता भी देखे गए हैं। यहां 1 दिसंबर को चुनाव होना है और वोटो की गिनती 4 दिसंबर को होगी।

ये है पूरा चुनावी गणित

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम में 150 सीटें हैं। बीते चुनाव में 99 सीटें तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) को मिली थी, वहीं औवेसी की पार्टी एआईएमआईएम ने 44 सीटों पर जीत हासिल की थी। वही भाजपा को सिर्फ 4 सीटें मिली थी। दरअसल ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव को 2023 में होने वाले तेलंगाना विधानसभा चुनाव का पूर्व परीक्षण माना जा रहा है। इसलिए भाजपा विधानसभा चुनाव से पहले केसीआर और ओवैसी को झटका देना चाहती है।

ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम देश के सबसे बड़े नगर निगमों में से एक है और जिसमें हैदराबाद, रंगारेड्डी, मेडचल-मलकजगिरी और संगारेड्डी जिले आते हैं। साथ ही इस पूरे इलाके में 24 विधानसभा क्षेत्र हैं और तेलंगाना के 5 लोकससभा सीटें आती हैं। यही कारण है कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव में केसीआर से लेकर बीजेपी, कांग्रेस और असदुद्दीन ओवैसी तक ने ताकत झोंक दी है। इस पूरे अंचल की आबादी करीब 82 लाख है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Budget 2021
Budget 2021