Weather Update: देश भर में मॉनसून का असर दिख रहा है और कई जगहों पर मॉनसून ने इतनी बारिश की है कि लोगों की जान आफत में पड़ गई है। इसके अभी थमने के आसार भी नहीं हैं, क्योंकि भारतीय मौसम विभाग ने अगले पांच दिनों में देश के कई हिस्सों में भारी वर्षा होने की आशंका जताई है। IMD के मुताबिक 30 जुलाई से लेकर 4 अगस्त, 2021 तक मध्य और उत्तर भारत के कई राज्यों में तेज से मध्यम बारिश की संभावना है। विभाग के मुताबिक, 30 जुलाई से 2 अगस्त तक पूरे उत्तर प्रदेश में अधिकतर हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। वहीं, अगले पांच दिनों में जम्मू-कश्मीर और पंजाब में भी अधिकतर हिस्सों में मध्यम वर्षा हो सकती है।

दिल्ली में बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त

राजधानी दिल्ली में भी लगातार दो दिनों से हल्की से तेज बारिश हो रही है। शुक्रवार को भी मौसम विभाग ने राजस्थान के भरतपुर, दीग और दिल्ली से सटे इलाकों, गुरुग्राम, मानेसर, नूंह, मुजफ्फरनगर, देवबंद, रुड़की, बिजनौर, झंझनुं, विराटनगर, अलवर सहित कई इलाकों में बारिश की संभावना जताई है। उधर लगातार हो रही बारिश की वजह से यमुना का जलस्तर खतरे के निशान तक पहुंच गया है। शुक्रवार की सुबह 11:00 बजे के करीब यमुना का जलस्तर 205.34 हो गया, जबकि खतरे का निशान 205.33 मीटर ही है। आशंका जताई जा रही है कि ऊपरी इलाकों में बारिश हुई, तो ये कुछ ही घंटों में खतरे के निशान को पार कर जाएगा।

आईएमडी ने बताया मध्य और उत्तरी पश्चिमी भारत (पश्चिमी मध्य प्रदेश और पूर्वी राजस्थान) से जुड़े हिस्सों में 30 जुलाई से 4 अगस्त के बीच में भारी वर्षा हो सकती है। मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले कुछ दिनों में राजस्थान के अनेक हिस्सों में भारी से अत्यंत भारी बारिश होगी। जयपुर मौसम केंद्र के अनुसार, राज्य में सक्रिय दक्षिण-पश्चिमी मानसून आने वाले कुछ दिनों में और जोर पकड़ेगा। विभाग ने शुक्रवार को राज्य के नागौर, सीकर तथा अजमेर जिले में काफी भारी से अत्यंत भारी बारिश की चेतावनी वाला ‘ रेड अलर्ट' भी जारी किया है।

Posted By: Shailendra Kumar