कोरोना वायरस के खतरे को टालने के लिए देश में 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है। लॉकडाउन की घोषणा के बाद से ही लोगों में घबराहट का माहौल है और इसी वजह से जरूरी सामानों की दुकानों पर भीड़ उमड़ रही है। हालांकि इसे लेकर सरकार साफ कर चुकी है कि आवश्यक सामग्री की दिक्कत नहीं आएगी लेकिन लोग सरकार की बात भी मानने को तैयार नहीं हैं। लॉकडाउन की घोषणा के बाद Domestic Gas Cylinder की बुकिंग में भी इजाफा हो गया है। इसे लेकर सरकारी तेल कंपनी Indian Oil Corporation ने भी लोगों से घबराहट में गैस टंकियों की बुकिंग न कराने की अपील की थी। कंपनी की अपील का भी जब असर दिखाई नहीं दिया तो कंपनी ने बुकिंग के लिए न्यूनतम दिन तय कर दिए हैं।

15 दिन के अंतर पर ही होगी बुकिंग

Indian Oil Corporation ने निर्णय लिया है कि अब 15 दिनों के अंतर के बाद ही बुकिंग की जाएगी। अब तक बुकिंग कराने के लिए दिनों की बाध्यता नहीं थी। इतना ही नहीं कंपनी के अध्यक्ष संजीव सिंह ने भी एक वीडियो संदेश पोस्ट करते हुए लोगों से अपील की है कि वे घबराएं नहीं देश में रसोई गैस की कोई कमी नहीं है।

उन्होंने कहा कि देशभर में पेट्रोलियम पदार्थों की आपूर्ति पहले की तरह ही सुचारू है, ऐसे में किसी भी तरह की किल्लत नहीं होगी। रसोई गैस को लेकर भी उन्होंने आश्वस्त किया कि लोग निश्चिंत रहें उसकी सप्लाई निर्बाध बनी रहेगी। ग्राहकों से निवेदन हैं कि वे पैनिक बुकिंग न कराएं। इससे सिस्टम पर बेवजह दबाव पड़ता है।

सभी आवश्यक सेवाएं हैं चालू

सरकार ने भले ही 21 दिनों का टोटल लॉकडाउन कर दिया है लेकिन आवश्यक वस्तुओं को लेकर किसी भी तरह की पाबंदी नहीं की गई। बावजूद इसके लोगों ने घबराहट में जमकर खरीदी की है। इसके साथ ही दुकानों पर भीड़ उमड़ रही है जिस वजह से कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ गया है। इसके चलते ही कई राज्यों ने सख्त कदम उठाते हुए लोगों को घरों में ही रखने के लिए कर्फ्यू लगा दिया है।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना