देश में कोरोना के हालत इतने बेकाबू हो गये हैं कि सामान्य लॉकडाउन से भी कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। इसे देखते हुए कई राज्यों ने कंप्लीट लॉकडाउन का ऐलान किया है। कर्नाटक में कोरोना की वजह से हालात बेकाबू हो गये हैं। इसे देखते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येद्युरप्पा ने ऐलान किया कि 10 मई को सुबह 6 बजे से 24 मई की सुबह 6 बजे तक राज्य में संपूर्ण लॉकडाउन लागू होगा। इस दौरान सभी होटल, पब और बार बंद रहेंगे। रेस्ट्रां, राशन, मांस की दुकानें और सब्जी की दुकानें भी सुबह 6 से10 बजे तक ही खुलेंगी। सीएम ने कहा कि सुबह 10 बजे के एक भी आदमी सड़क पर दिखाई नहीं देना चाहिए। उन्होंने लॉकडाउन का उल्लंघन करनेवालों पर पुलिस को कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना के मरीजों और इससे होनेवाली मौत के बढ़ते मामलों को देखने के बाद ये फैसला किया गया है। उन्होंने प्रवासी मजदूरों से भी पलायन ना करने की अपील करते हुए कहा कि ये सिर्फ कुछ दिनों के लिए है।

केरल सरकार ने भी कल से पूरे राज्य में कंप्लीट लॉकडाउन का फैसला किया है। मुख्यमंत्री पी. विजयन ने इसकी घोषणा की। लॉकडाउन को सख्ती से लागू करने के लिए 25 हजार पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। इस दौरान प्रवासी मजदूरों सहित सभी जरुरतमंदों को फ्री राशन किट का वितरण जारी रहेगा। वहीं सोशल मीडिया पर कोरोना से जुड़ी झूठी खबरें फैलानेवालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। केरल में आज कोरोना के 38,460 नये मामले सामने आये हैं, जबकि 54 लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ ही प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या 4 लाख से ऊपर पहुंच गई है। मरनेवालों का आंकड़ा भी 5,682 हो गया है।

उधर गोवा में भी कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कोरोना कर्फ्यू लगाने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि गोवा में 9 मई यानी रविवार से 15 दिन के लिए कर्फ्यू लग जाएगा। गोवा में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 4,195 नये मामले सामने आये हैं और 56 लोगों की मौत हो गई है। प्रदेश में फिलहाल 31,716 एक्टिव मामले हैं। यहां कोरोना संक्रमण का कुल आंकड़ा 1,12, 462 पहुंच गया है।

आपको बता दें कि भारत में फिलहाल एक्टिव मामलों की संख्या 36,45,164 है। जिसमें सिर्फ 4 राज्यों महाराष्ट्र, उत्तरप्रदेश, कर्नाटक और केरल में आधे एक्टिव मामले (18,06,900) हैं। महाराष्ट्र, कर्नाटक और केरल उन 10 राज्यों में शामिल हैं, जहां एक दिन में आए कुल मामलों का 71.81 फीसदी केस दर्ज हुए हैं।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags