Kerala में हो रही भारी बारिश के कारण बाढ़ के हालात बने हुए हैं और इस बीच एक मुन्नार में एक भीषण हादसा हुआ है। यहां बारिश की वजह से हुए भूस्खलन के कारण चाय बागानों में काम करने वाले 80 से ज्यादा मजदूर दब गए हैं। इनमें से 7 लोगों की मौत हो चुकी है। हादसे की सूचना के बाद NDRF ने राहत और बचाव कार्य शुरू कर दिया है और मलबा हटाकर इसमें दबे लोगों को निकालने का काम जारी है। अभी तक 10 लोगों को बचा लिया गया है।

हादसे की सूचना के बाद राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने कहा कि इडुक्की के राजमाला में भूस्खलन पीड़ितों को बचाने के लिए NDRF की टीमों को तैनात किया गया है। पुलिस, फायर, वन और राजस्व अधिकारियों को भी बचाव अभियान करने का निर्देश दिया गया है। बारिश के कारण राज्य के पनामार और वायनाड में बाढ़ जैसी स्थिति है।

मुख्यमंत्री ने अपने बयान में आगे कहा कि, बचाव और राहत कार्य के लिए इडुक्की में राजामलाई के लिए अग्निशमन बल के 50 सदस्यीय विशेष बल दल को भेजा गया है। यह बल रात में भी बचाव कार्य करने में सक्षम है।

बता दें कि राज्य में लगातार भारी बारिश हो रही है और प्रदेश के मौसम विभाग ने तो 11 अगस्त तक इडुक्की, मलप्पुरम और वायनाड के लिए अत्यधिक भारी वर्षा की चेतावनी भी जारी की है। राज्य में लगातार बारिश के बाद पेरियार नदी में जल स्तर बढ़ने से अलुवा में शिव मंदिर जलमग्न हो गया। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र भुवनेश्वर के निदेशक एचआर विश्वास ने कहा कि 9 और 10 अगस्त को दक्षिणी ओडिशा के कई हिस्सों में भारी बारिश की उम्मीद।

सड़कों पर चारो तरफ भरा पानी

यहां सड़कों पर ऊपर तक पानी भर गया है। फिलहाल, प्रभावित इलाकों के लिए केरल के सीएमओ ने कहा कि मुख्यमंत्री कार्यालय ने बचाव कार्यों के लिए राजमाला को हेलीकॉप्टर सेवाएं प्रदान करने के लिए भारतीय वायु सेना से संपर्क किया है। यह जल्द ही उपलब्ध होने की उम्मीद है।

Posted By: Ajay Kumar Barve

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020