Kerela Viman Hadsa : केरल में हुए विमान हादसे को लेकर नागरिक उड्डयन मंत्रालय को रिपोर्ट सौंप दी है। इसमें बताया गया है कि एयर इंडिया एक्सप्रेस का विमान जब कोझिकोड एयरपोर्ट पर पहुंचा तो एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (एटीसी) ने पायलट से 28 नंबर रनवे पर लैंडिंग कराने को कहा। लेकिन भारी बारिश के चलते पायलट लैंडिंग कराने में सफल नहीं हो सका। वंदे भारत मिशन के तहत खाड़ी के देशों से भारतीयों को लेकर लौटी एयर इंडिया एक्सप्रेस की फ्लाइट आइएक्स-1344 की पहले कोझिकोड एयरपोर्ट के 28 नंबर रनवे पर लैंडिंग होनी थी। लेकिन भारी बारिश के चलते पायलट रनवे के करीब आने के बावजूद लैंडिंग नहीं करा सका था। जानिये रिपोर्ट में और क्‍या कहा गया है।

ब्लैक बॉक्स से खुलेगा हादसे का राज

दुर्घटनाग्र्रस्त विमान के ब्लैक बॉक्स को जांच के लिए दिल्ली में नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) के लैब में लाया गया है। डीजीसीए के महानिदेशक अनिल कुमार ने रविवार को कहा कि ब्लैक बॉक्स से जल्द ही ट्रांसक्रिप्ट को निकाला जाएगा। उन्होंने कहा कि विस्तृत और निष्पक्ष जांच के बाद ही हादसे के असली कारणों का पता चल सकेगा। डीजीसीए महानिदेशक ने कहा कि हादसे की जांच शुरू हो गई है। अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आइसीएओ) द्वारा तय दिशानिर्देशों के मुताबिक विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो (एएआइबी) हादसे की जांच कर रहा है।

रिपोर्ट में कहा गया है

- पायलट ने भारी बारिश के चलते लैंडिंग कराने में असमर्थता की बात एटीसी को बताई। इसके करीब 16 मिनट बाद पायलट ने 10 नंबर रनवे पर लैंडिंग कराने की अनुमति मांगी।

- मान्य प्रक्रिया के तहत पायलट को उस रनवे की मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी दे दी गई।

- रिपोर्ट के मुताबिक बारिश के चलते दृश्यता दो हजार मीटर के आसपास थी। हालांकि, धीरे-धीरे इसमें सुधार भी हो रहा था।

- पायलट ने जब रनवे नंबर 10 पर लैंडिंग कराई, तो निर्धारित टच डाउन जोन (टीडीजेड) से करीब हजार मीटर आगे बढ़ गया था। यह स्थान टैक्सीवे सी के करीब था।

- रनवे पर टीडीजेड वह क्षेत्र होता है जहां विमान सबसे पहले सतह के संपर्क में आता है।

- निर्धारित क्षेत्र से आगे विमान के लैंड करने से एटीसी को अनहोनी की आशंका हो गई थी। उसने तुरंत आपात सेवाओं को संपर्क किया।

- रनवे पर तैनात रहने वाले सीएफटी (अतिरिक्त ईंधन टैंक) को तुरंत विमान के पीछे जाने को कहा, क्योंकि लैंडिंग के बाद एटीसी को रनवे पर कहीं विमान नजर नहीं आ रहा था।

- टीएफटी को भी जब विमान रनवे पर नहीं नजर आया तो उसने आगे बढ़कर देखा और विमान खाई में गिरा मिला था।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020