किसान आंदोलन LIVE: कृषि बिलों के मुद्दे पर सरकार और किसानों के बीच गतिरोध खत्म होने की उम्मीद जगी है। बुधवार की बैठक के बाद केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सरकार ने इन बिलों को डेढ़ साल तक लागू नहीं करने का प्रस्ताव रखा है। ताजा खबर यह है कि सरकार के इस प्रस्ताव पर किसान संगठन आज विचार करेंगे। सुबह 11 बजे सिंधु बॉर्डर 580 किसान संगठनों की अहम बैठक होगी। इसके बाद दिन में 2 बजे संयुक्त किसान मोर्चा बैठक करेगा। बैठक में तय होगा कि सरकार का प्रस्ताव स्वीकार किया जाए या नहीं। यदि स्वीकार किया जाता है तो उम्मीद है कि 22 जनवरी को होने वाली अगले दौर की बैठक में किसान आंदोलन समाप्त कर दिया जाए। हालांकि कुछ किसान अभी भी कह रहे हैं कि उन्हें तीनों बिलों की वापसी से कम कुछ भी मंजूर नहीं।

26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली पर अड़े किसान

इस बीच, 26 जनवरी को प्रस्तावित किसानों की ट्रैक्टर रैली को लेकर गतिरोध बना हुआ है। किसान संगठन कह रहे हैं कि दिल्ली पुलिस अनुमति दे या नहीं, वे तो ट्रैक्टर रैली निकालेंगे। इस संबंध में किसान संगठनों तथा दिल्ली पुलिस के अधिकारियों के बीच बैठकें हो चुकी हैं। गुरुवार को इस संबंध में किसान संगठनों और दिल्ली पुलिस के बीच बैठक हुई जो नाकाम रही। पुलिस किसानों के दिल्ली से सटी सीमा पर स्थान देना चाहती है, जबकि किसान कह रहे हैं कि वे दिल्ली के अंदर ही ट्रैक्टर रैली करेंगे।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags