Lockdown 5.0 : देश में चल रहे लॉकडाउन को आगे जारी रखने के मुद्दे पर गृहमंत्री अमित शाह ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। गृहमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के विचारों और सुझावों से प्रधानमंत्री को अवगत कराया। एक-दो दिन में अगले चरण के बारे में घोषणा हो सकती है। गृहमंत्री से चर्चा करने वाले गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने 15 दिन तक लॉकडाउन बढ़ाए जाने का संकेत दिया है। केंद्र सरकार अंतरराष्ट्रीय उड़ानों, राजनीतिक कार्यक्रमों और सिनेमा हाल, मॉल आदि पर रोक तक अपनी भूमिका सीमित रखेगी। बाकी मामलों में राज्यों को खुद निर्णय लेना होगा।

तेजी से बढ़ती कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार 24 मार्च को 21 दिन के लॉकडाउन की घोषणा की थी। इसे पहले 3 मई तक और फिर 17 मई तक और बाद में 31 मई तक बढ़ा दिया गया। एक बार फिर लॉकडाउन बढ़ाए जाने के आसार बन रहे हैं। राज्यों की राय जानने के लिए गृहमंत्री अमित शाह ने गुरुवार को मुख्यमंत्रियों के साथ फोन पर बातचीत की।

ये मिल सकती हैं रियायतें

गृहमंत्री अमित शाह के साथ चर्चा में कई मुख्यमंत्रियों द्वारा सहमति जताए जाने के बाद लॉकडाउन के अगले चरण की संभावना बढ़ गई है। आर्थिक गतिविधियों में बढ़ोतरी हो और आम लोगों को भी कुछ रियायतें मिल जाएं। कुछ मामलों में पूर्व की भांति सख्ती बरकरार रहेगी।

धर्मस्थल : कर्नाटक और बंगाल की सरकार द्वारा पहली जून से मंदिर मस्जिद समेत सभी पूजा स्थलों को खोलने की इजाजत देने से समझा जा रहा है कि अन्य राज्यों में भी शारीरिक दूरी और अन्य सुरक्षा उपायों के साथ धर्मस्थलों को खोलने की इजाजत मिल जाए।

विमान सेवाएं : कई अन्य शहरों से भी विमान सेवाएं शुरू होने या उनके फेरे बढ़ने की उम्मीद है। जानकारी के अनुसार मेट्रो शहरों के मुकाबले नान मेट्रो शहरों में विमान सेवा की ज्यादा मांग है।

रेल सेवा : श्रमिक स्पेशल व राजधानी स्पेशल के बाद रेलवे द्वारा पहली जून से चलाई जा रही 100 जोड़ी ट्रेनों से जनजीवन पटरी पर आने में काफी मदद मिलने वाली है।

बस सेवा : कुछ राज्यों में अंतरराज्यीय बस सेवाओं के पहले से शुरू होने से इस बात की काफी संभावना है कि अन्य राज्य भी इस दिशा में कोई पहल कर सकते हैं।

मॉल, सिनेमा हाल, होटल, रेस्टोरेंट स्वीमिंग पूल : लॉकडाउन के संभावित अगले चरण में मॉल, सिनेमाहाल, होटल रेस्टोरेंट, फन पार्क और स्वीमिंग पूल आदि को खोले जाने की संभावना बिल्कुल नहीं दिख रही है।

बाजार-दुकानें : जरूरी सामान की दुकानों को पहले ही छूट दिए जाने के बाद समझा जा रहा है कि अगले चरण में बाजार और दुकानें खोलने में कुछ और ढिलाई दी जाए। दुकानें देर तक खोलने की भी इजाजत मिल सकती है।

स्कूल-कालेज : लॉकडाउन के इस चरण में स्कूल कालेज खुलने की संभावना नहीं है। स्कूल-कालेज जब भी खुलेंगे पहले बड़ी कक्षाओं को ही पूरे सुरक्षा बंदोबस्त के साथ इजाजत दी जाएगी।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना