कश्मीर में हालात कितने बदल गए हैं, इसकी एक झलक महाशिवरात्रि पर देखने को मिली। श्रीनगर के Shankaracharya मंदिर में जहां सुबह मंत्रोच्चारण की गूंज दूर-दूर तक सुनाई दे रही थी तो रात को यहां का नजारा सबको अपनी तरफ खींच रहा था। डल झील के किनारे गोपाद्री पर्वत के शिखर पर स्थित Shankaracharya मंदिर महाशिवरात्रि को रंग-बिरंगी रोशनी से जगमगा उठा। इसकी छटा कई किमी दूर से दिखाई दे रही थी। मंदिर के गुंबद के अलावा चाहदीवारी को रंग-बिरंगी लड़ियों से सजाया गया था। देर रात तक भक्तों का आना जारी रहा।

वायरल हुई तस्वीर, सोशल मीडिया पर आए ऐसे कमेंट्स

Shankaracharya मंदिर के जगमग होने के फोटो फेसबुक, ट्विटर और सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। फेसबुक पर कुछ लोगों ने फोटो के साथ संदेश भी लिखे कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद दशकों का अंधेरा दूर हुआ। अब कश्मीर बदल गया है। किरण बेदी ने भी यह तस्वीर ट्वीट की और लिखा कि दशकों के अंधेरे के बाद अब शंकराचार्य शिव मंदिर जगमगाया है। ओम नमो शिवाय।

वहीं एक अन्य ट्वीट में लिखा गया, ये है असली आज़ादी, हमने तो ले ली आज़ादी, दशकों के बाद आज श्रीनगर के शंकराचार्य मंदिर में महाशिवरात्रि की रौनक।

विकास भदौरिया ने लिखा, हम भूल ही गए थे कि देश को सांस्कृतिक एकता के सूत्र में बांधने वाले "शंकराचार्य" का मंदिर श्रीनगर में हैं। दशको के अंधेरे के बाद आज जगमग हो उठा है।

सुधीर ठाकुर ने कमेंट किया, हेरथ यानि महाशिवरात्रि, कश्मीरी हिंदूओं के लिए सबसे बड़ा त्यौहार है, जो कि इस बार श्रीनगर के शंकराचार्य मंदिर में धूमधाम से मनाया गया। 370 कश्मीर से हटाने का फायदा पूछने वालों देख लो।

प्रवीण सिंह ने लिखा, चंद्र तरे, सूरज तरे,डिगे अडिग हिमवंत, हिन्दुओ का हिन्दुत्व,रहे अखण्ड अनंत..!!

दशकों के बाद आज श्रीनगर के शंकराचार्य मंदिर में महाशिवरात्रि की रौनक..!!

दीपक चौरसिया ने लिखा, ये श्रीनगर का शंकराचार्य मंदिर है!महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में जगमगाता हुआ! जानकारी के मुताबिक़ कई सालों के बाद इतने धूमधाम से यहाँ महाशिवरात्रि मनाई गई है!

Posted By: Arvind Dubey