Migrant Workers: दिल्ली में छह दिन के लॉकडाउन का ऐलान होते ही प्रवासी मजदूरों का पलायन एक बार फिर शुरू हो गया है। दिल्ली के यूपी और हरियाणा से सटी सीमाओं पर पिछले साल जैसा नजारा दिखाई दे रहे है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को छह दिन का लॉकडाउन का ऐलान किया था। साथ ही दिल्ली में रह रहे दूसरे राज्यों के मजदूरों से अपील की थी कि वे शहर में ही रहें। केजरीवाल ने कहा था कि मैं हूं ना सबका ख्याल रखा जाएगा। हालांकि केजरीवाल की इस अपील का कोई असर नहीं हुआ। वहीं दिल्ली से जा रहे प्रवासी मजदूरों की तस्वीरें देख राहुल गांधी को एक बार फिर राजनीति करने का मौका मिल गया।

राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, प्रवासी एक बार फिर पलायन कर रहे हैं। ऐसे में केंद्र सरकार की ज़िम्मेदारी है कि उनके बैंक खातों में रुपय डाले। लेकिन कोरोना फैलाने के लिए जनता को दोष देने वाली सरकार क्या ऐसा जन सहायक क़दम उठाएगी?

Migrant Workers: एक बार फिर रोजी-रोटी का खतरा

हालात देखकर लगता है कि दिल्ली से रवाना हो रहे मजदूरों के लिए रोजी रोटी की चिंता बड़ी है। यही कारण है कि वे कोरोना संक्रमण की परवाह किए बगैर भारी भीड़ भरे वाहनों में सवार होकर अपने घरों के लिए रवाना होने को मजबूर है। बता दें दिल्ली में सोमवार रात 10 बजे से अगले सोमवार सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन का ऐलान हुआ है। इसकी घोषणा होते ही आनंद विहार बस टर्मिनल पर भारी भीड़ उमड़ पड़ी। देखिए तस्वीरें

Image

Image

Image

Image

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags