भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आइएमडी) ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान और पंजाब को छोड़कर दक्षिण पश्चिम मानसून देश के अधिकतर भागों तक पहुंच गया है। आइएमडी के मुताबिक इस साल के मानसून की सबसे खास बात है कि यह देश के पूर्वी, मध्य और पश्चिमोत्तर के आसपास के इलाकों में सामान्य से कम समय में ही पहुंच गया है। दिल्ली और आसपास के क्षेत्रों को अभी मानसून के लिए एक हफ्ते तक और इंतजार करना होगा। पछुआ हवा के चलते दक्षिण पश्चिम मानसून बहुत धीमी गति से आगे बढ़ रहा है और राष्ट्रीय राजधानी तक उसके पहुंचने में हफ्ते भर का समय और लगने की उम्मीद है। IMD के क्षेत्रीय पूर्वानुमान विभाग के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा है कि 26 जून के आस पास दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में हल्की बारिश होने की संभावना है, लेकिन इस क्षेत्र को मानसूनी बारिश के लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा। मौसम विभाग ने पहले 15 जून तक ही मानसून के दिल्ली पहुंचने का अनुमान व्यक्त किया था। सामान्य तौर पर 27 जून तक मानसून दिल्ली पहुंचता है और आठ जुलाई तक पूरे देश में उसकी पहुंच हो जाती है। मौसम का पूर्वानुमान व्यक्त करने वाली निजी एजेंसी स्काईमेट वेदर के महेश पलावत ने कहा कि इस महीने के आखिर तक ही मानसून के दिल्ली पहुंचने की संभावना है। आमतौर इन इलाकों में मानसून के पहुंचने में सात से 10 दिन का समय लगता है। हालांकि, देश के शेष भाग में अगले सात दिनों में इसके पहुंचने की संभावना नहीं है।

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags