नई दिल्ली। निर्भया केस के चारों दोषियों को फांसी की सजा देने की सुगबुगाहट तेज है। इस बीच एक दोषी के पिता का बड़ा बयान सामने आया है। दोषी के पिता का कहना है कि उनके बेटे को इस मामले में फंसाया गया है, वह निर्दोष है और मासूम है। पिता का कहना है कि यह जघन्य अपराध जिस वक्त हुआ उस वक्त उसका बेटा वहां था लेकिन उसने कोई गलत काम नहीं किया। उन्होंने बताया कि मेरे बेटे से उसकी मां लगातार मिलती है। 'उसने अपनी मां को बताया कि उसे गलत तरीके से इस मामले में फंसाया गया और वह सामूहिक दुष्कर्म में शामिल नहीं था।'

दोषी के पिता मुख्य गवाह के खिलाफ दायर करेंगे केस

देश में एक तरफ जहां निर्भया केस के दोषियों को जल्द फांसी देने की मांग तेज हो रही है। इसी बीच इस दोषी के पिता का कहना है कि वह इस मामले में पटियाला कोर्ट में गलत गवाही देने वाले निर्भया के दोस्त के खिलाफ क्रिमिनल केस दायर करेंगे। वहीं इस केस में दोषी के वकील ने आरोप लगाया था कि केस का अहम गवाह निर्भय़ा का दोस्त इंटरव्य देने के लिए पैसे ले रहा है। गौरतलब है कि निर्भया केस के चारों दोषियों को दिल्ली की तिहाड़ जेल में शिफ्ट कर दिया गया है।

यह था निर्भया केस

साल 2012 के दिसंबर महीने में निर्भया केस हुआ था जिसने पूरे देश में सनसनी फैला दी थी। चलती बस में 6 बदमाशों ने मेडिकल छात्रा के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया था। इसके बाद जघन्य तरीके से उसकी हत्या कर दी गई थी। कोर्ट में सुनवाई के दौरान ही एक आरोपी ने जेल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। वहीं एक आरोपी के नाबालिग होने पर कोर्ट ने उसे राहत दे दी थी। चार अन्य आरोपियों को फांसी की सजा दी गई थी। जिसे हाईकोर्ट और फिर सुप्रीम कोर्ट ने भी बरकरार रखा था।

Posted By: Neeraj Vyas

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020