निर्भया केस में दोषियों के खिलाफ तीसरा डेथ वारंट जारी हो चुका है और कोर्ट ने विनय शर्मा, पवन गुप्ता, मुकेश सिंह और अक्षय कुमार को फांसी के फंदे पर टांगने के लिए 3 मार्च की तारीख तय की है। सब कुछ ठीक रहा तो उस दिन सुबह 6 बजे चारों को एक साथ फांसी की सजा दे दी जाएगी। इस बीच, तिहाड़ जेल में तैयारियां पहले ही पूरी हो चुकी हैं। अब कुछ औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं। तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने बताया है कि चारों दोषियों को फांसी से पहले आखिरी बार उनके परिवार से मिलवाया जाना है। मुकेश और पवन से उनके परिजन पहले ही मिल चुके हैं। अब अक्षय और विनय से पूछा गया है कि वे कब मिलना चाहते हैं।

बता दें, इससे पहले 1 फरवरी का डेथ वारंट जारी हुआ था। हालांकि फांसी नहीं हो पाई, लेकिन मुकेश और पवन ने इससे पहले अपने परिवार से मुलाकात कर ली थी। अब अक्षय और विनय की बारी है, जिसके लिए जेल अधिकारियों ने लिखित में दे दिया है।

पवन गुप्ता ने वकील से मिलने से किया इन्कार

इस बीच, पवन गुप्ता ने शनिवार को अपने वकील रवि काजी से मिलने से इन्कार कर दिया। रवि काजी उससे मिलने तिहाड़ जेल आए थे। पवन को आगे क्या याचिका दायर करना है, इस मामले में वकील से बात होना है।

विनय ने दीवार पर दे मारा था सिर, कोर्ट में रिपोर्ट पेश

शनिवार को सरकारी वकील और तिहाड़ जेल की ओर से कोर्ट को विनय शर्मा के बारे में जानकारी दी गई। विनय ने कुछ दिन पहले दीवार पर सिर ठोंक लिया था। सरकारी वकील इरफान अहमद ने बताया कि विनय को तत्काल इलाज मुहैया करवाया गया। तिहाड़ जेल की ओर से भी इस घटनाक्रम के सीसीटीवी फुटेज कोर्ट में पेश किए गए हैं। बता दें, डेथ वारंट जारी होने के बाद से दोषियों पर नजर रखी जा रही है।

Posted By: Arvind Dubey