Oxygen Audit Report: कोरोना की महामारी की दूसरी लहर के दौरान देश में ऑक्सीजन की जबरदस्त किल्लत देखने को मिली। कई मरीजों की मौत ऑक्सीजन की सप्लाय न होने के कारण हुई। ताजा खुलासा दिल्ली को लेकर हुआ है। दरसल, दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने तब ऑक्सीजन की जबरदस्त मांग केंद्र सरकार से की थी। पूरी सप्लाय नहीं होने से मामला सुप्रीम कोर्ट में गया तो सर्वोच्च अदालत ने ऑक्सीजन ऑडिट कमेटी का गठन किया। अब ऑक्सीजन ऑडिट कमेटी की रिपोर्ट आ गई है। इसमें खुलासा हुआ है कि केजरीवाल सरकार ने जरुरत से चार गुना ज्यादा ऑक्सीजन की मांग की। दिल्ली सरकार को करीब 289 मैट्रिक टन ऑक्सीजन की दरकार थी और करीब 1200 मैट्रिक टन की मांग की गई। अब यह रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट की अगली सुनवाई के दौरान जजों के सामने पेश की जाएगी। रिपोर्ट में कहा गया कि केजरीवाल सरकार की इस हरकत का असर उन 12 राज्यों पर पड़ा जहां ऑक्सीजन की कमी से कई मरीजों ने जान गंवाई। भाजपा और कांग्रेस ने ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को जिम्मेदार ठहराया है।

वहीं आम आदमी सरकार की ओर से उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने पक्ष रखा और कहा कि ऐसी कोई रिपोर्ट जारी ही नहीं हुई है। बकौल सिसोदिया, हमने सुप्रीम कोर्ट की बनाई कमेटी के सदस्यों से बात की। किसी सदस्य ने नहीं कहा कि उन्होंने ऐसी किसी रिपोर्ट पर साइन किया है। उन्होंने रिपोर्ट को भाजपा की साजिश बताया।

Oxygen Audit Report: भाजपा भड़की

Oxygen Audit Report सामने आने के बाद भाजपा हमलावर हो गई है। भाजपा प्रवक्ता संविद पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा, दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन के कारण कई लोगों ने अपनी जान गंवाई, इसके लिए अरविंद केजरिवाल जी जिम्मेदार हैं। हम आशा करते हैं सर्वोच्च न्यायालय में वो जिम्मेदार ठहराए जाएंगे और जो अपराध उन्होंने किया है, उसके लिए उन्हें दंडित किया जाएगा। दिल्ली सरकार द्वारा 4 गुना ज्यादा ऑक्सीजन की जरूरत बताई गई, जिससे ऑक्सीजन टैंकर सड़क पर खड़े रहे। अगर ये ऑक्सीजन दूसरे राज्यों में उपयोग होती तो कई लोगों की जान बच सकती थी। ये अरविंद केजरीवाल जी द्वारा किया गया जघन्य अपराध है।

भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने ट्वीट किया है कि अरविंद केजरीवाल को देश से माफी मांगना चाहिए। बता दें, ऑक्सीजन संकट के दौरान आम आदमी पार्टी की ओर से खूब राजनीति की गई थी। केजरीवाल ने ऑक्सीजन संकट के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया था। केजरीवाल ने लगभग रोज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ने का काम किया। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी का कहना है कि केजरीवाल ने पूरे देश के सामने अपनी नाक कटवा ली है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags