भुवनेश्वर । ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में एक अनूठी पहल शुरू कर गई है। अब यहां पार्किंग शुल्क वसूलने की जिम्मेदारी किन्नरों को सौपीं जा रही है। मिली जानकारी के मुताबिक भुवनेश्वर में अब किन्नर पार्किंग शुल्क वसूल करते नजर आएंगे। स्थानीय सूत्रों के मुताबिक थर्ड जेंडर को मुख्यधारा में शामिल करने की पहल के हिस्से के रूप में भुवनेश्वर नगर निगम (बीएमसी) ने यह व्यवस्था शुरू की है। यहां बीएमसी ने पार्किंग शुल्क संग्रह के लिए, ट्रांसजेंडरों द्वारा संचालित एनजीओ टीजी स्वीकृति को स्मार्ट सिटी में दो प्रमुख पार्किंग स्थल सौंपे हैं।

एनजीओ की की थी अपील

गौरतलब है कि एनजीओ द्वारा की गई अपील को मंजूरी देते हुए भुवनेश्वर में बीएमसी कमिश्नर प्रेम चंद्र चौधरी ने गुरुवार को एक विशेष समारोह में ट्रांसजेंडर्स को बीएमसी के अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में नई जिम्मेदारी सौंपी। साथ ही एक विशेष एप्रन पहनने के साथ एक बैग लेकर NGO के सदस्य शहर के दो मुख्य पार्किंग स्थलों से फीस एकत्र करेंगे। किन्नरों को इस काम की ट्रेनिंग भी दी जा रही है। यदि यह प्रयोग सफल रहता है तो अन्य स्थानों पर भी लागू किया जाएगा।

भुवनेश्वर के इन पार्किंग स्थल पर करेंगे वसूली

किन्नर जिन स्थानों पर पार्किंग चार्ज की वसूली करेंगे, उसमें पहले पार्किंग लॉट में राजमहल से मास्टर कैंटीन चौक के बीच का क्षेत्र शामिल है, जिसमें चार पार्किंग स्थल हैं। पहला पार्किंग स्थल खादी शोरूम के सामने से श्रीलेदर्स शोरूम के सामने तक, दूसरा होटल रॉयल मिडटाउन से आर्य पैलेस तक तीसरा अशोक मार्केट से सिटी रेसिडेंसी तक एवं चौथा रॉयल मिडटाउन के सामने से नारायण आयुर्वेद भवन शोरूम तक बनाया गया है।

वहीं दूसरे पार्किंग लाट में मास्टर कैंटीन से श्रीया चौक तक का क्षेत्र शामिल है। इस क्षेत्र में 5 जगहों पर पार्किंग स्थान बनाया गया जो इस प्रकार है। इसमें होटल स्वास्ति के सामने मौजूद खारवेल नगर स्थान, ईपरी सदाशिव ज्वैलर्स के के पास मौजूद खारवेल नगर पार्किंग ज़ोन (ऑफ-स्ट्रीट), नरूला जनरल स्टोर्स के सामने से पीसी चंद ज्वेलर्स तक खारवेल नगर आफ स्ट्रीट पार्किंग, गोदावरिश साहित्य संसार के सामने मौजूद खारवेल नगर पार्किंग ज़ोन (ऑफ-स्ट्रीट) और होटल केशरी के सामने खारवेल नगर पार्किंग ज़ोन (ऑन-स्ट्रीट) शामिल है।

दो महीने तक किया जाएगा ये प्रयोग

बीएमसी उपायुक्त श्रीमंत मिश्र ने बताया कि ट्रांसजेंडरों को दो महीने के लिए प्रयोग के तौर पर रखा गया है। पहली पार्किंग के लिए मासिक फीस 2.23 लाख रुपया, जबकि दूसरी के लिए मासिक फीस 1.46 लाख रुपए तय की गई है। संबद्ध संगठन एक महीने पूरा होने के बाद बीएमसी को पैसे का भुगतान करेंगे। एनजीओ टीजी स्वीकृति ने नए असाइनमेंट के लिए 7,380 रुपए सिक्योरिटी जमा की है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags