प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ठाणे-दिवा के बीच नई बनी पांचवीं और छठी रेल लाइन का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि आज हर मुंबईकर को बहुत-बहुत बधाई। ये नई रेल लाइन, मुंबई वासियों के जीवन में एक बड़ा बदलाव लाएंगी, उनकी Ease of Living बढ़ाएगी। कल छत्रपति शिवाजी महाराज की जन्मजयंती है। सबसे पहले मैं भारत के गौरव, भारत की पहचान और देश की संस्कृति के रक्षक देश के महान महानायक के चरणों मे प्रणाम करता हूं।

आज से सेंट्रल रेलवे लाइन पर 36 नई लोकल चलने जा रही हैं। इनमें से भी अधिकतर AC ट्रेनें हैं। ये लोकल की सुविधा को विस्तार देने, लोकल को आधुनिक बनाने के केंद्र सरकार के कमिटमेंट का हिस्सा है। अहमदाबाद-मुंबई हाई स्पीड रेल आज मुंबई और देश की आवश्यकता है। ये मुंबई की क्षमता को और सपनों के शहर के रूप में मुंबई की पहचान को सशक्त करेगी। ये प्रोजेक्ट तेज गति से पूरा हो, ये हम सभी की प्राथमिकता है।

पिछले 7 सालों में मुंबई में भी मेट्रो का विस्तार हुआ है। मुंबई के आसपास के उपनगरीय केंद्रों में भी मेट्रो शुरू की जा रही हैं। 2008 में, इन लाइनों के लिए आधारशिला रखी गई थी, 2015 तक अपेक्षित पूरा होने के साथ। हमने इस पर तेजी से काम करना शुरू कर दिया और इसे पूरा करना सुनिश्चित किया।

मुंबई उपनगरीय रेलवे नेटवर्क का आधुनिकीकरण किया जा रहा है और इसके साथ सुरक्षित तकनीक को एकीकृत किया जा रहा है। इसकी क्षमता करीब 400 किलोमीटर बढ़ाई जा सकती है। हम 19 स्टेशनों के आधुनिकीकरण और सीबीडीसी प्रणाली को लागू करने की योजना बना रहे हैं। पिछले 7 वर्षों में, हमारी सरकार रेलवे क्षेत्र में कई सुधारों को बढ़ावा दे रही है।

इससे पहले, क्रियान्वयन की योजना में कमी थी, जिसने दशकों तक परियोजनाओं को रोक दिया था। हमने इसका मुकाबला करने के लिए प्रधान मंत्री गतिशक्ति मास्टर प्लान विकसित किया है। 6,000 से अधिक रेलवे स्टेशनों को वाईफाई से जोड़ा गया है। वंदे भारत ट्रेनें भारत के रेल पारगमन में सुधार कर रही हैं। अगले कुछ वर्षों में 400 नई वंदे भारत ट्रेनें शुरू की जाएंगी।

Posted By: Navodit Saktawat

  • Font Size
  • Close