पुलवामा हमले की घटना को पूरा एक साल गुजर गया है। देशभर में आज इस घटना को याद करते हुए शहीदों को नमन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी वीर शहीदों को श्रध्दांजलि दी है। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी का पुलवामा हमले को लेकर एक विवादित ट्वीट सामने आया है जिसमें उन्होंने सवाल किया है कि इस हमले से सबसे ज्यादा फायदा किसे हुआ है? राहुल गांधी के इस विवादित ट्वीट के बाद भाजपा भी गांधी परिवार पर हमलावर हो गई है। भाजपा नेता संबित पात्रा ने यहां तक कहा कि इनका शरीर ही नहीं आत्मा तक भ्रष्ट हो चुकी है।

राहुल के ट्वीट पर भाजपा का पलटवार

राहुल गांधी के विवादित ट्वीट के बाद भाजपा भी इसे लेकर गांधी परिवार पर हमलावर हो गई है। भाजपा नेता संबित पात्रा ने कहा कि राहुल गांधी का यह नीचतापूर्ण बयान है। 'यह नीचतापूर्ण हमला था और यह नीचतापूर्ण बयान है..किसे सबसे ज्यादा फायदा मिला?... मिस्टर गांधी क्या आप फायदे से ऊपर सोच सकते हैं?... बिल्कुल नहीं..इसलिए कहा जाता है गांधी परिवार कभी फायदे से बाहर नहीं सोच सकता है...उनका शरीर ही नहीं बल्कि आत्मा भी भ्रष्ट हो चुकी है।'

राहुल गांधी ने किया यह ट्वीट

राहुल गांधी ने पुलवामा हमले की बरसी पर ट्वीट करते हुए कहा 'आज जब हम पुलवामा हमले में शहीद हुए हमारे 40 सीआरपीएफ शहीद जवानों को याद कर रहे हैं, तो हमें यह पूछना चाहिए: 1. इस हमले से सबसे ज्यादा किसे फायदा मिला? 2. हमले की जांच का क्या निष्कर्ष निकला? 3. हमले के दौरान सुरक्षा में हुई सेंध को लेकर भाजपा सरकार में किसने जिम्मेदारी ली?'

नवाब मलिक ने दिया यह बयान

पुलवामा हमले की बरसी पर एक बार फिर सियासत गरमाने लगी है। राहुल गांधी के बाद महाराष्ट्र एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने भी इस घटना को लेकर अब तक हुई जांच पर सवाल खड़े किए हैं। उन्होंने कहा 'पुलवामा में 40 जवान शहीद हुए लेकिन अब तक इस मामले में कोई इन्क्वायरी नहीं हुई कि RDX कहां से आया और कैसे वाहन घटनास्थल तक पहुंचा। गाड़ी का ड्रायवर जेल में है। वह बाहर कैसे आया? लोग सच जानना चाहते हैं ऐसे में जांच होना चाहिए।'

पीएम मोदी ने दी श्रध्दांजलि

पुलवामा हमले में शहीद हुए 40 वीर जवानों को याद करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें श्रध्दांजलि दी। PM मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा 'पिछले साल पुलवामा हमले में शहीद हुए वीर जवानों को श्रध्दांजलि। वे उन चुनिंदा लोगों में से हैं जिन्होंने देश की रक्षा के लिए अपनी जान दे दी। देश उनकी शहादत को कभी नहीं भूलेगा।'

Posted By: Neeraj Vyas

fantasy cricket
fantasy cricket