अयोध्या Ram Mandir Bhoomi Pujan । अयोध्या में राम मंदिर का भूमि पूजन कल पांच अगस्त को होगा। इससे पहले कई नामी संत, नेता व प्रसिद्ध हस्तियां का अयोध्या पहुंचना शुरू हो गया है। यहां राम की पौड़ी पर पांच अगस्त को 1.5 लाख दीपक जलाए जाएंगे। वहीं आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत लखनऊ से अयोध्या के लिए रवाना हो चुके हैं और नाथ संप्रदाय के उपाध्यक्ष बालकनाथ जी महाराज हरियाणा के रोहतक से रामनगरी पहुंचे हैं। वहीं कारसेवक पुरम में सतपाल महाराज व बालकनाथ महाराज रामंदिर भूमि पूजन पर चर्चा की। इन तमाम खबरों के बीच अयोध्या में बहुप्रतीक्षित प्रस्तावित राम मंदिर की तस्वीरें सामने आई हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक इस खूबसूरत राम मंदिर को साढ़े तीन साल में बनकर तैयार किया जाएगा। मंदिर प्रॉजेक्ट के अनुसार मंदिर को बनकर तैयार होने में तीन से साढ़े तीन साल का समय लगेगा। मंदिर तीन मंजिला होगा और इसका निर्माण वास्तु के अनुसार किया जाएगा।

161 फीट ऊंचा होगा मंदिर

मंदिर के शिखर की ऊंचाई अब बढ़ाकर 161 फुट कर दी गई है। वहीं पूरे मंदिर में पांच विशाल गुंबद होंगे। गौरतलब है कि राममंदिर के पुराने नक्शे में सिर्फ तीन गुंबद प्रस्तावित थे, लेकिन अब इसमें दो गुंबद और बढ़ा दिए गए हैं। वहीं मंदिर का जमीनी आकार भी बढ़ा कर दिया गया है।

मंदिर की ऊंचाई में भी 33 फीट की बढ़ोतरी

5 अगस्त से जिस राम मंदिर के निर्माण का काम शुरू हो रहा है उसकी ऊंचाई में भी 33 फीट की बढ़ोतरी कर दी गई है। मंदिर के पुराने मॉडल के हिसाब से मंदिर की लंबाई 268 फीट 5 इंच थी, जिसे अब बढ़ाकर 280-300 फीट कर दिया गया है। राम मंदिर के पांचों गुंबदों के नीचे के हिस्से में चार हिस्से होंगे। जिसमें सिंहद्वार, नृत्य मंडप, रंगमंडप बनेगें। यहां श्रद्धालुओं के बैठने, आराम करने और अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रम करने की व्यवस्था होगी।

दिल्ली की कंपनी चमका रही पत्थर

राम मंदिर में लगने वाले पत्थरों को चमकाने का काम दिल्ली की कंपनी कर रही है। यहां मिट्टी परीक्षण की रिपोर्ट के आधार पर मंदिर के लिए नींव की खुदाई हो रही है। यह 20 से 25 फीट गहरी हो सकती है। प्लैटफॉर्म कितना ऊंचा होगा इस पर निर्णय राम मंदिर ट्रस्ट करेगा। अभी 12 फीट से 14 फीट तक की ऊंचाई का विचार चल रहा है। राम मंदिर में कुल 318 स्तंभ होंगे और प्रत्येक तल पर 106 स्तंभ होंगे।

100 करोड़ के लागत से बनेगा राम मंदिर

मंदिर के शिल्पकार चंद्रकांत सोमपुरा के मुताबिक राम मंदिर के निर्माण में 100 करोड़ रुपये की लागत आएगी। यह खर्च बढ़ भी सकता है, यदि इसकी निर्माण अवधि की समय सीमा तय की जाएगी तो ज्यादा संसाधन चाहिए होंगे। इससे बजट भी बढ़ेगा। उन्होंने बताया कि राम मंदिर का डिजाइन नागर स्टाइल का है। शिल्प शास्त्र की तमाम गणनाओँ के आंकलन करने के बाद राम मंदिर का निर्माण किया जा रहा है।

Posted By: Sandeep Chourey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020