Kavach Personal Loan: देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) ने कोरोना से पीड़ित मरीजों के लिए एक कोलेट्रल फ्री लोन (collateral free loan) शुरुआत की है। कवच पर्सनल लोन (kavach personal loan) के नाम से लॉन्च इस स्कीम में कोविड से पीड़ित मरीजों को लोन देने के लिए बैंक किसी भी तरह की गारंटी या सामान गिरवी रखने को नहीं कहेगा। यानी यह लोन पूरी तरह कोलेट्रल फ्री है, और इसके तहत 5 लाख रुपये तक का लोन लिया जा सकता है। लेकिन इस लोन का फायदा केवल कोरोना के मरीज अपने और परिवार के इलाज के लिए उठा सकते हैं।

SBI के चेयरमैन दिनेश खारा ने कवच पर्सनल लोन को लॉन्च करते हुए कहा कि इस योजना के तहत कोविड पेशेंट 25 हजार रुपये से लेकर 5 लाख रुपये तक का लोन ले सकते हैं। यह लोन 5 साल तक की अवधि के लिए लिया जा सकता है और इस पर केवल 8.5% सालाना ब्याज लगेगा। साथ ही इसमें 3 महीने का मोराटोरियम भी शामिल है। यानी अगर आपने तीन महीने तक लोन की किस्त नहीं चुकाई, तो भी बैंक कोई जुर्माना नहीं लगाएगा।

दिनेश खारा ने बताया कि SBI का यह कवच पर्सनल लोन RBI के कोविड रिलीफ मेजर्स (COVID relief measures) के तहत दिया जा रहा है, जिसमें बैंक कोविड लोन बुक क्रिएट कर रहे हैं। आपको बता दें कि RBI ने सभी बैंकों को कोरोना काल में लोगों की मदद के लिए लोन के मामले में कुछ राहत देने का निर्देश दिया था। इसी के तहत सभी बैंकों ने अपने-अपने तरीके से मदद की कोशिश की है। लेकिन SBI के इस लोन की खासियत ये है कि पर्सनल लोन के मामले में इनकी ब्याज-दर काफी कम है। यहां लोन पर केवल 8.5 फीसदी ब्याज लिया जा रहा है, जबकि अन्य बैंकों में ये 12 से 16 फीसदी तक होता है। दूसरी खासियत ये है कि इसमें किसी तरह का कोलैटरल या गिरवी रखने की शर्त नहीं है। इससे कोविड मरीजों के लिए लोन लेना काफी आसान हो जाएगा।

Posted By: Shailendra Kumar

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags