Sukanya Samriddhi Yojana Form : केंद्र सरकार की योजना सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) बेटियों के भविष्‍य की आर्थिक सुरक्षा के लिए शुरू की गई थी और यह कम समय में बहुत लोकप्रिय भी हो गई है। इस योजना का खाता किसी भी निकटकम पोस्‍ट ऑफिस (Post Office) या बैंक में बेटियों के नाम से ही आवेदन देकर खोला जा सकता है। हर साल इसमें आप 250 रुपए जमा कर सकते हैं। आज हम आपको इस योजना के फार्म (Sukanya Samriddhi Yojana Registrasion Form) को भरने का तरीका बताने जा रहे हैं। साथ ही यह भी जानिये कि इस योजना के लिए कौन से कागज़ात (Sukanya Samriddhi Yojana Documents) होना जरूरी है। योजना के फॉर्म का PDF यहां Click करके डाउनलोड करें।

एक नज़र में जानिये यह योजना

सुकन्या समृद्धि योजना मुख्‍य रूप से एक स्‍मॉल सेविंग स्‍कीम यानी छोटी बचत योजना है जो कि पोस्‍ट ऑफिस से संचालित की जाती है। निर्धन एवं मध्यम वर्ग के लोगो के लिए यह योजना बहुत मायने रखती है। इसकी खास बात यही है कि इसमें सरकार द्वारा अच्‍छी खासी दरों से ब्‍याज का भुगतान किया जाता है। केंद्र सरकार की इस योजना में कोई भी व्‍यक्ति अपनी बेटी के लिए यदि हर साल अधिकतम राशि जमा करता है तो पूरे 21 साल बाद बेटी को 64 लाख रुपए प्राप्‍त होंगे। सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Scheme) में केवल 10 साल या इससे कम आयु की कन्‍याओं का ही खाता खोला जा सकता है। इसमें मिनिमम 250 रुपए से लेकर मैक्सिमम 1 लाख रुपए सालाना तक की राशि जमा की जा सकती है। अभिभावकों को यह राशि पूरे 14 साल तक जमा कराना होती है।

इन तरीकों से भरें योजना का फार्म

सुकन्या समृद्धि खाता (Sukanya Samriddhi Account ) खोलने के लिए आपको नज़दीकी पोस्ट ऑफिस या बैंक से एक फॉर्म ( Sukanya Samriddhi Yojana Registrasion Form) प्राप्‍त होगा। इसमें आप अपना एवं अपनी बच्‍ची के बारे में बुनियादी जानकारियां भर दें। इसमें आपका नाम, पहचान-पत्र, एड्रेस प्रूफ, आधार कार्ड और बेटी का नाम, उसका जन्‍म प्रमाण-पत्र, उसके शाला प्रवेश संबंधी कागजात आदि की जानकारियां देना होंगी। फार्म में जानकारी भरने के बाद आप उसे वापस डाकघर या बैंक में जमा कराना होगा। इसके बाद आप हर महीने अपनी सुविधा के अनुसार उस खाते में पैसा जमा कराते रहें। ध्‍यान रहे यदि आपने फार्म भरने में आयु संबंधी

इस स्थिति में निकाल सकते हैं आधा पैसा

सुकन्या समृद्धि खाते (Sukanya Samriddhi Account) में से राशि की निकासी के लिए बेटी की आयु सीमा तय की गई है। यह सीमा 18 वर्ष की है। जिस भी बेटी के नाम से सुकन्या समृद्धि खाता (Sukanya Samriddhi Account) खोला गया है, उसकी आयु 18 साल पूरी होने पर बेटी की शिक्षा एवं विवाह खर्च के लिए जमा राशि में से 50 प्रतिशत धनराशि का आहरण किया जा सकता है। जब वह 21 साल की हो जाएगी तब उसके खाते में से पूरी धनराशि की निकासी की जा सकती है। इस पैसे का उपयोग आप उस बच्‍ची की शिक्षा या विवाह सहित किसी कारोबार को आरंभ करने में भी कर सकते हैं।

संक्षिप्‍त में जानिये इसके लाभ

- इस योजना में केंद्र सरकार द्वारा जमा राशि पर उच्च ब्याज दिया जाता है, जो इस योजना का मुख्‍य आकर्षण है।

- सुकन्या समृद्धि खाते (Sukanya Samriddhi Accoun) में दिए जाने वाले ब्‍याज की दर हर साल बदल जाती है।

- वर्तमान में इसकी ब्‍याज दर 7.6 फीसदी है। हो सकता है यह आने वाले वर्षों में बढ़ जाए।

- यह योजना निर्धन व मध्यम आय वाले परिवारों की बच्चियों को सुरक्षित भविष्य देने के मकसद से शुरू की गई है।

- सुकन्या समृद्धि खाते ( Sukanya Samriddhi Account ) में जमा धन राशि पर IT Act आयकर कानून की धारा 80C के अंतर्गत इनकम टैक्स में भी छूट प्राप्‍त है।

जानिए किन्हें और कैसे मिलता है सुकन्या योजना का लाभ

Posted By: Navodit Saktawat

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020