Tea Rates in India: कोरोना महामारी ने देश के हर शख्स को प्रभावित किया है। ताजा खबर यह है कि कोरोना और इससे बचाव के लिए लगाए गए लॉकडाउन का असर चाय के प्याले पर पड़ा है। उत्पादन घटने से चाय पत्ती के दाम बढ़ गए हैं। रही सही कसर भारी बारिश ने पूरी कर दी है। कुल मिलाकर देश में इस साल चाय का उत्पादन कम होने से इसकी कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। जनवरी से सितंबर 2020 तक चाय नीलामी के औसत मूल्य में जनवरी से सितंबर 2019 की तुलना में 31 फीसदी की वृद्धि हुई है। इसके चलते पैकेट बंद कंपनियों ने भी कीमतों में 20-22 फीसदी तक की बढ़ोतरी कर दी है। कोलकाता स्थित भारतीय चाय बोर्ड के ताजा आंकड़ों के मुताबिक, इस साल जनवरी-सितंबर 2020 के दौरान तीन तिमाहियों में भारतीय नीलामी में चाय की औसत कीमत 44.03 रुपए बढ़कर 185.76 रुपए प्रति किलो हो गई। जबकि पिछले वर्ष यह 141.73 रुपये प्रति किलोग्राम थी। पढ़िए कोलकाता से इंद्रजीत सिंह की रिपोर्ट

Tea Rates in India: पंद्रह करोड़ किलो घट गया उत्पादन

भारतीय चाय एसोसिएशन के सचिव सुजीत पात्रा के अनुसार, देश में असम और बंगाल प्रमुख चाय उत्पादक राज्य हैं जहां पहले लॉकडाउन के कारण चाय बागानों में काम ठप्प पड़ गया था। वहीं, पिछले 3-4 महीनों में भारी बारिश और बाढ़ जैसे हालात के कारण उत्पादन पर असर पड़ा है। इस साल के पहले 9 महीने में 15 करोड़ किलो चाय उत्पादन घटा है। टी बोर्ड के आंकड़ों मुताबिक प्रतिकूल मौसम के कारण इस साल चाय का उत्पादन 15 से 18 फीसदी घटने की आशंका है। जनवरी से सितंबर 2020 के दौरान देश का कुल चाय उत्पादन 67.1 करोड़ किलो रहा।

भारतीय चाय निर्यातक संघ (आईटीईए) के अध्यक्ष अंशुमान कनोरिया के मुताबिक, इस वर्ष भारत का चाय निर्यात भी प्रभावित होगा, क्योंकि केन्या में उत्पादन 30 फीसदी से अधिक बढ़ा है। इसकी कीमतें कम हैं। पिछले साल लगभग 25.2 करोड़ किलोग्राम चाय का निर्यात हुआ था। उन्होंने कहा कि इस साल हमें आशंका है कि निर्यात का आकार घटकर 18 करोड़ किलो के आसपास जाएगा।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस