टी-20 विश्व कप में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत पर देश में कुछ लोगों ने जश्न मनाया। अब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के संकेत दिए हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चेतावनी दी है कि उनकी सरकार पिछले रविवार को दुबई में टी20 विश्व कप में सुपर 12 फेस-ऑफ में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वालों के खिलाफ देशद्रोह का आरोप लगाएगी। सीएम योगी ने अपने ट्वीट में लिखा, 24 अक्टूबर को भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए टी -20 विश्व कप मैच के बाद कुछ असामाजिक तत्वों ने भारतीय टीम के खिलाफ अभद्र शब्दों का इस्तेमाल किया और इससे शांति भंग हुई है।

आगरा, बरेली, बदायूं और सीतापुर केस, दोष साबित हुआ तो उम्र कैद

सीएम योगी के मुताबिक, अब तक प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार आगरा, बरेली, बदायूं और सीतापुर में पांच मामले दर्ज किए गए हैं। कुल सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है, जिनमें से 5 को हिरासत में ले लिया गया है। जांच चल रही है और सबूतों के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

इसके अलावा, जम्मू-कश्मीर के तीन इंजीनियरिंग छात्रों ने पाकिस्तान की जीत के अपने व्हाट्सएप स्टेटस को अपडेट किया था और जश्न मनाया था। तीनों को आगरा में गिरफ्तार किया गया था। इन सभी छात्रों पर साइबर आतंकवाद के अपराध से निपटने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 66 एफ के तहत आरोप लगाया गया है, जिसमें दोषी पाए जाने पर आजीवन कारावास की सजा हो सकती है।

इस बीच, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने श्रीनगर के करण नगर के सरकारी मेडिकल कॉलेज और SKIMS सौरा में हॉस्टल में रहने वाले कुछ मेडिकल छात्रों के खिलाफ कड़े गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) के तहत दो मामले दर्ज किए हैं।

सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए वीडियो में छात्रों और अन्य लोगों को आपत्तिजनक नारे लगाते हुए और पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाते हुए दिखाया गया था, जिसके बाद यह कार्रवाई की गई।

Posted By: Arvind Dubey