Menu

Top News Live: गैस हीटर के कारण दम घुटने से नेपाल में 8 भारतीयों की मौत

Tue, 21 Jan 2020 04:04 PM (IST) | अरविंद दुबे

HIGHLIGHT

  1. दिल्ली विधानसभा में नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन
  2. पहाड़ों पर बर्फबारी जारी, दिल्ली में बारिश के आसार
  3. Zomato ने Uber Eats को खरीदा, रात 3 बजे हुई डील, सुबह 7 बजे ग्राहक शिफ्ट

देश में दिल्ली विधानसभा चुनाव का माहौल गर्मा गया है। मंगलवार को नामांकन का आखिरी दिन है। वहीं नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में प्रदर्शन जारी है। दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश के बाद भी पुलिस यह जगह खाली नहीं करवा सकी है। पुलिस लगातार प्रदर्शनकारियों से अपील कर रही है। वहीं, मौसम का कहर जारी है। पढ़िए 21 जनवरी 2020 की बड़ी खबरें -

21 January 2020
  • 03:52 PM

    नेपाल की होटल में केरल के 8 लोगों की मौत

    नेपाल से खबर है कि एक होटल के कमरे में केरल के 8 लोग मृत पाए गए हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अभी मृतकों की पहचान नहीं हुई है, लेकिन वे रूम में गैस हीटर का उपयोग कर रहे थे और माना जा रहा था कि गम घुटने से मौत हुई है। वहीं केरल के पर्यटन मंत्री के. सुरेंद्रन ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा है कि नेपाल से यह दुखद खबर आई है। प्रदेश सरकार नेपाल के अधिकारियों से सम्पर्क की कोशिश में हैं। 

  • 01:34 PM

    गुस्साए शायर ने कहा, सबका विकास, सबका विश्वास का क्या हुआ

    अपनी बेटियों  के खिलाफ केस होने के बाद शायर मुवनव्वर राणा भड़क गए हैं। उन्होंने कहा है कि देश में सभी को विरोध प्रदर्शन करने का अधिकार है। उन्होंने केंद्र सरकार की नीतियों पर सवाल उठाते हुए कहा, सबका विकास, सबका विश्वास का क्या हुआ?

  • 12:00 PM

    CAA के विरोध में प्रदर्शन, मुनव्वर राना की बेटियों समेत 159 पर केस

     

    लखनऊ। सीएए-एनआरसी का विरोध कर रहे 159 लोगों के खिलाफ लखनऊ के ठाकुरगंज थाने में तीन मुकदमें दर्ज कराए गए हैं। आरोपियों में मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी सुम्मैया और फौजिया समेत 24 नामजद और 135 अज्ञात हैं। ठाकुरगंज में तैनात महिला आरक्षी ज्योति कुमारी के मुताबिक शांति व्यवस्था बनाने के लिए महिला प्रदर्शनकारियों से तितर बितर होने के लिए कहा गया था। इस पर सुम्मैया राणा, फौजिया, रुखसाना, सफी फातिया तथा 10 अज्ञात प्रदर्शनकारी महिलाओं ने महिला आरक्षी के साथ धक्का मुक्की की।

  • 11:47 AM

    शाहीनबाग मामला: दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में एक महीने से ज्यादा वक्त से प्रदर्शनकारी जमे हैं। ये लोग नागरिकता कानून का विरोध कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों में महिलाएं भी शामिल हैं। दिल्ली हाई कोर्ट ने पुलिस से कहा है कि वह कानून के दायरे में रह कर काम करे और रास्ता खाली करवाए। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने कई बार अपील की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। अब सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK