Top News LIVE: कारोबारी हफ्ते के आखिरी दिन शुक्रवार को भारतीय शेयर बाजार में बड़ी गिरावट देखने को मिली। 11 बजे बाद 614 अंकों की गिरावट दर्ज की गई। हालांकि तत्काल बाजार कुछ संभला और खबर लिखे जाने तक बीएसई 354 अंकों की गिरावट के साथ 51,968.84 के स्तर पर रहा। वहीं NSE में 127.55 अंकों की गिरावट रही और यहां 15,563 के स्तर पर ट्रेडिंग हुई। अमेरिका से आ रही ब्याज दरें बढ़ने की खबरों का असर दुनियाभर के शेयर बाजार पर पड़ा है।

Top News LIVE: जानिए देश-दुनिया से जुड़ी अन्य अहम खबरें

डॉक्टरों के खिलाफ हो रही हिंसा के विरोध में देशव्यापी प्रदर्शन, लाखों चिकित्सक ले रहे हिस्सा

कोरोना के मुश्किल समय में डॉक्टरों ने देवदूत बनकर काम किया, लेकिन अब ये देवदूत नाराज हैं। नाराज इस बात को लेकर है कि देशभर में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा बढ़ती जा रही है। इसको लेकर शुक्रवार को राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। आईएमए का दावा है कि विरोध प्रदर्शन में 8 से 9 लाख डॉक्टर शामिल हो रहे हैं, जिसमें साढ़ें तीन लाख आईएमए के और बाकी अलग-अलग मेडिकल एसोसिएशन के हैं। ये डॉक्टर काले कपड़े, बैज, बैंड पहन कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। अच्छी बात यह है कि इस दौरान किसी भी मरीज को कोई तकलीफ नहीं हो ये सुनिश्चित किया जा रहा है।

पूर्वोत्तर भारत में भूकंप के तगड़े झटके, जानिए किन राज्यों में थर्राई धरती

कोरोना महामारी से जारी लड़ाई के बीच शुक्रवार सुबह देश के पूर्वोत्तर राज्यों से बड़ी खबर आई है। शुक्रवार सुबह असम, मणिपुर और मेघालय में भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। हालांकि अब तक जान-मान के नुकसान की खबर नहीं है। एक के बाद एक तीन झटके महसूस किए गए। असम के सोनितपुर में 4.1 तीव्रता का, मणिपुर के चंदेल में 3 और मेघालय के पश्चिम खासी हिल्स में 2.6 की तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी की ओर से यह जानकारी दी गई है। इसी दौरान पूर्वी इंडोनेशिया में बुधवार को समुद्र में 5.8 तीव्रता का भूकंप आया, जिससे कुछ दीवारों में दरारें पड़ गई और मालुकु प्रांत में समुद्री तट के सामने रहने वाले निवासियों को ऊंचे इलाकों में जाने के लिए कहा गया।

फ्रैंकलिन टेंपलटन ने लौटाए 17,777 करोड़ रुपये : फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड (एमएफ) ने गुरुवार को कहा कि उसने पिछले वर्ष बंद कर दी गई अपनी छह डेट स्कीम के यूनिटधारकों को कुल 17,777 करोड़ रुपये लौटा दिए हैं। यह रकम 15 जून तक लौटाई गई है। कंपनी के मुताबिक लौटाई गई रकम इन योजनाओं के बंद होने की तिथि (23 अप्रैल, 2020) को इनकी प्रबंधनाधीन संपत्ति (एयूएम) का 71 फीसद हैं। पिछले वर्ष 23 अप्रैल को कंपनी ने अपनी छह डेट योजनाएं यह कहते हुए बंद कर दी थीं कि उस पर भुगतान का दबाव है और बाजार में तरलता नहीं है।

बोर्ड बैठक के नियमों में मंत्रालय ने दी ढील: कोरोना संकट से उपजी मुश्किलों को देखते हुए कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय (एमसीए) ने वर्चुअल माध्यम से कंपनियों के निदेशक बोर्ड की बैठक से संबंधित नियमों में ढील दी है। एमसीए ने कहा है कि कंपनियों के निदेशक बोर्ड वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग या अन्य ऑडियो-विजुअल माध्यमों से की गई बैठक में सालाना वित्तीय नतीजों और विलय-अधिग्रहणों समेत इस तह के अन्य फैसलों को अनुमोदन दे सकते हैं। कंपनी कानून के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बोर्ड बैठक को पहले से मंजूरी मिली हुई है। लेकिन उनमें वित्तीय नतीजों जैसे मुद्दों पर सहमति के लिए फिजिकल मीटिंग जरूरी थी।

सेवाओं से प्रतिबंध हटवाने की दिशा में कर रहे काम: निजी क्षेत्र के सबसे बड़े कर्जदाता एचडीएफसी बैंक ने गुरुवार को कहा कि वह अपनी चुनिंदा सेवाओं पर लगा प्रतिबंध खत्म करवाने को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआइ) के दिशानिर्देशों के तहत काम कर रहा है। बैंक ने कहा कि वह पूरा का पूरा नया तकनीकी तंत्र विकसित कर रहा है। पुराने तंत्र पर आधारित तकनीकी सेवाओं में आ रही दिक्कतों को खत्म नहीं किया जा सकता है। लेकिन उन्हें सुलझाने में लगने वाला समय न्यूनतम स्तर पर लाने की दिशा में बैंक काम कर रहा है। उल्लेखनीय है कि बैंक की तकनीकी सेवा में कई बार खामी आने के बाद आरबीआइ ने उसे नए क्रेडिट कार्ड बेचने से रोक दिया है।

Posted By: Arvind Dubey

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags