मल्टीमीडिया डेस्क। हैदराबाद में महिला डॉक्टर के साथ दुष्कर्म और हत्या के आरोपियों को हैदराबाद पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया है। जहां इस एनकाउंटर को लेकर देश में खुशी का माहौल है वहीं दूसरी तरफ कुछ राजनेता और संगठन इस पर सवाल भी उठा रहे हैं। सोशल मीडिया में 27 को हुई दुष्कर्म के बाद हत्या की वारदात के बाद से ही लोगों का गुस्सा भड़का हुआ था और लोग लगातार इसे अंजाम देने वालों के लिए तत्काल फांसी की मांग कर रहे थे। इन्हीं लोगों में एक ऐसा ट्वीट भी था जो अब भी वायरल हो रहा है। दरअसल, आज जो कुछ भी हुआ उसके बाद यह ट्वीट वायरल होने भी स्वाभाविक है। हालांकि, जिस ट्विटर हैंडल से यह ट्वीट किया गया है वो ट्विटर पर नहीं मिल रहा है। इसके बाद इस ट्वीट पर भी सवाल उठने लगे हैं कि आखिर यह ट्वीट असली था या नहीं और अगर असली था तो इस अकाउंट को हटा क्यों दिया गया।

यह लिखा था ट्वीट में

दरअसल, यह ट्वीट एक शख्स ने किया जो @konafanclub नाम के ट्विटर अकाउंट से हुआ था। जो फोटो वायरल हो रही है उसमें यही ट्विटर अकाउंट दिखाई दे रहा है। ट्वीट में लिखा है, 'सर अगर आप आरोपियों को सजा देना चाहते हैं तो उन्हें उस जगह पर ले जाएं जहां घटना हुई थी और क्राइम सीन रीक्रीएट करें। मुझे विश्वास है कि आरोपी भागने का प्रयास करेंगे और मुझे इससे ज्यादा यह विश्वास है कि हमारी पुलिस के पास उन्हें गोली मारने के अलावा कोई विकल्प नहीं होगा।.. कृपया एक बार जरूर सोचें।'

जो तस्वीर वायरल हो रही है उसमें राज्य नेता केटी रामाराव का ट्वीट भी नजर आ रहा है। जिसमें उन्होंने यह जानकारी दी थी कि आरोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं लेकिन यह कुछ आश्चर्य की बात है कि हम पीड़िता के परिवार को न्या कैसे देंगे।

यह ट्वीट वायरल होने के बाद अब लोग पूछ रहे हैं कि क्या वाकइ में हैदराबाद पुलिस ने इस शख्स द्वारा दी गई सलाह पर अमल किया है या यह ट्वीट फर्जी है।

Posted By: Ajay Barve

fantasy cricket
fantasy cricket