उन्नाव। उत्तर प्रदेश में एक वैन में आग लग जाने से उसमें सवार सात लोग जिंदा जल गए। हादसा उस वक्त हुआ जब लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे स्थित बांगरमऊ कट के पास के पास हरदोई की ओर जा रही वैन टायर फटने के बाद बेकाबू होकर सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई। वैन के ट्रक से टकराने के बाद उसमें आग लग गई। सीएनजी सिलेंडर की वजह से वैन में आग तेजी से फैल गई।

टक्कर से ट्रक में भी आग लग गई तो चालक और क्लीनर उसे जलता हुआ छोड़कर भाग निकले। पुलिस की सूचना पर पहुंची दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर काबू पाया तो वैन के भीतर से सात शव मिले। शवों की शिनाख्त की कोशिश की जा रही है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्माओं की शांति की कामना करते हुए मृतकों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के बांगरमऊ कट से 100 मीटर की दूरी पर हरदोई-उन्नाव रोड पर रविवार रात एक सवारियों से भरी वैन उन्नाव से हरदोई की ओर जा रही थी। वैन की रफ्तार काफी तेज थी वहीं सामने से भी वाहन तेज रफ्तार में आ रहे थे। इसी दौरान अचानक वैन का अगला टायर फट गया, जिससे वैन अनियंत्रित हो गई और सामने से आ रहे ट्रक में भिड़ गई। टक्कर इतनी भयानक थी कि वैन में आग लग गई। वैन में लगे सीएनजी गैस सिलेंडर तक आग पहुंचने पर वह आग का गोले में तब्दील हो गई।

आग से घिरी वैन में सवार लोगों को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला और वैन ही में उनकी जलकर मौत हो गई। ट्रक भी आग की चपेट में आ गया तो उसके चालक और क्लीनर मौके से ट्रक को जलता हुआ छोड़कर भाग निकले। उधर से गुजर रहे वाहन चालकों ने इसकी सूचना फायर ब्रिगेड के साथ पुलिस को दी। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस और फायर ब्रिगेड दस्ते ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। आधा घंटे की मशक्कत के बाद आग को काबू किया जा सका। तब तक वैन में सवार लोग जिंदा जल चुके थे।

घटनास्थल पर पहुंचे एसपी विक्रांत वीर ने कंकाल मे बदल चुके शवों को वैन से बाहर निकलवाया। वैन के नंबर की जांच करने पर पुलिस को पता चला कि वह उन्नाव के खजुरिहा बाग मोहल्ला निवासी अंकित बाजपेई पुत्र बाल कृष्ण की थी। वहीं, ट्रक के नंबर से पता चला कि वह मेरठ के सनी गुप्ता का है।

Posted By: Yogendra Sharma